What is After Market Offer?

Podcast Duration: 6:13
आफ्टर मार्केट ऑफर क्या है? नमस्ते दोस्तों, स्वागत है आपका एंजेल ब्रोकिंग के इस पॉडकास्ट में। दोस्तों आपने शाम और रात के महाविद्यालय के बारे में जरूर सुना होगा? कुछ समय पहले नेट्फ़्लिक्स पर एक हास्य - चलचित्र आया था जिसका नाम था, रात्रि विद्यालय। देखा है? शाम या रात का विद्यालय आप उसे जो भी नाम दें, उन लोगों के लिए शिक्षा प्राप्त करने का तरीका है जो, पढ़ने के साथ काम भी करना चाहते हैं। यह लोग कॉलेज जाने वाले युवा भी हो सकते हैं जो साथ में कमाई करना चाहते हैं , या फिर कुछ बड़े लोग भी हो सकते हैं। जो लोग कमाते हैं उनकी सोच यह होती है कि वो एक डिग्री र्जित कर लें। इसी तरह बाज़ार योजना भी एक विचारपूर्ण योजना है - जो निवेशकों को उनकी बिचौलिया कंपनी द्वारा प्रदान की जाती है। इसे समय समाप्ती के बाद भी निवेश अथवा ए एम ओ भी कहा जाता है। यह आप और मुझ जैसे कामकाजी लोगों के लिए काफी फायदेमंद है। क्योंकि कार्यालय में कभी- कभी तो पानी भी पीना भूल जाते हैं और दिन का खाना चार बजे तक खाते हैं। तो निवेश करने के लिए समय और मन की शांति कहाँ से मिलेगी? घर से काम करना तो और ज्यादा तनाव भरा है। हर कोई इस बात को लेकर सौ प्रतिशत विश्वस्त होना चाहता है कि सब कार्य समय के दौरान ठीक से काम कर रहे हैं। ऐसी परिस्थिति में निवेश के लिए एक घंटा भी निकाल पाना मुश्किल है। बाज़ार समय के बाद योजना इसमें काफी सहायक है, चलिये इसके बारे में जानते है। तो सबसे पहले शुरू करते हैं, मुख्य बात से कि बाज़ार -के बाद योजना क्या है? यह एक योजना है जिसके अंतर्गत निवेशक निर्धारित निवेश की समय सीमा जो कि 9.15 से 3.30 है के बाद भी निवेश कर सकते हैं। यह सेवा नौसीखिए और अंशकालिक निवेशकों के लिए बहुत उपयोगी है, यह उन्हें अपनी नौकरी के साथ - साथ निवेश करने का मौका देती है। यह सेवा ऑनलाइन माध्यमों के प्रचार के कारण ही संभाव हो पायी है। यदि किसी निवेशक को यह सेवा इस्तेमाल करनी है तो उसके लिए ऑनलाइन ट्रेडिंग खाता होना अनिवार्य है। यह योजना सेबी से मान्यता प्राप्त है। आगे हम इस योजना से होने वाले लाभ के बारे में बात करते हैं। सबसे पहले आप अपनी नौकरी के साथ इसे कर सकते हैं। निवेश के जोखिमों से बचने के लिए किसी को भी निवेश को अपना एकमात्र व्यवसाय नहीं बनाना चाहिए। उनके पास अपनी एक निश्चित आमदनी होनी चाहिए और साथ- साथ कमाई को बढ़ाने के लिए निवेश को उपयोग करना चाहिए।इस योजना का लाभ उठा के निवेशक दोनों फ़ायदे ले सकते हैं। दूसरा फ़ायदा है कि यह तरीका ज़्यादा जोख़िम भरा भी नहीं है क्योंकि बाज़ार बंद होने के बाद मूल्य स्थिर रहते हैं। नौसिखिये लोगों के लिए ऊपर नीचे जाते आंकड़ों को समझना मुश्किल होता है, यह प्रक्रिया आसान हो जाएगी क्योंकि मूल्य अगले दिन तक स्थिर होंगे। आराम से जानकारी लेकर वापस स्टॉक पर जाने में मूल्य नहीं बदलेगा आपको मुनाफ़ा निवेश की सुविधा भी मिल जाती है, जिसके अंतर्गत निवेशक निर्धारित राशि का केवल कुछ भाग ही निवेश करता है। चौथा फ़ायदा है कि आपको स्टॉक के बंद होने के मूल्य में पाँच प्रतिशत की कम या ज़्यादा गुंजाइश मिल जाती है। जैसे अगर स्टॉक 100 रुपये पर बंद हुआ है तो आप 95 रुपये पर खरीदने या 105 रुपये पर बेचने का निर्णय ले सकते हैं। तो खेलो, खेलो, खेलो दोस्तों ! इससे ज़्यादा आसान नहीं हो सकता। अगले दिन अगर आपका मूल्य, स्टॉक के बाज़ार खुलने के मूल्य से मेल खाता होगा तो आपको वो मूल्य मिल जाएगा। पाँचवाँ फ़ायदा है कि इसमें वो अंतर्राष्ट्रीय निवेश की सुविधा भी देते हैं। जैसा यूनाइटेड स्टेट्स का टाइम दस घंटे बाद का है तो अगर वहाँ से कोई इंडियन स्टॉक में निवेश करना चाहे तो उसकी पूरी रात इसी में गुज़र जाएगी, इस प्रक्रिया से वह अपने काम के बाद भी निवेश कर सकता है। छटा फ़ायदा है कि अगर कुछ खोज के बाद आपको ऐसा लगता है कि जो स्टॉक आपके पास हैं उनका मूल्य आने वाले लंबे समय तक गिरने वाला है तो आप उसे आज ही बेच सकते हैं ताकि कल बाज़ार खुलने के बाद होने वाले नुकसान से बच सकें। अब तक आप इस योजना को लेकर काफी उत्साहित होंगे, तो चलिये देखते हैं यह कैसे काम करता है-- कहाँ जाएँ? मान लेते हैं आप एक एंजेल ब्रोकिंग डिमैट और ऑनलाइन खाता धारक हैं तो आपको केवल निवेश समय के बाद अपने खाते में प्रवेश करना है। आप इस योजना को बाज़ार बंद होने के बाद 3.45 से 8.57 के बीच कभी भी इस्तेमाल कर सकते हैं। एक बात और है हमने फ़ायदों कि चर्चा तो कर ली पर जोखिमों कि बात नहीं की, बाज़ार में निवेश करते समय ऐसे किसी भी व्यक्ति को शक की निगाह से देखें जो जोखिमों की बात नहीं करता। सब हमारी तरह नहीं होते - सबसे बड़ी चीज़ याद रखें कि इस योजना के इस्तेमाल से जोख़िम सिर्फ इसलिए कम नहीं हो जाता क्योंकि मूल्य अपरिवर्तित रहते हैं। हाँ यह आपकी व्याकुलता को थोड़ा कम ज़रूर कर देंगे पर बुरा निर्णय आपको बुरा नतीजा ही देगा, इसलिए कोई भी स्टॉक खरीदने से पहले उसकी अच्छी तरह से जानकारी ले लें। दूसरी बात कि इस योजना में आपके पास स्टॉप लॉस का तरीका नहीं है। मुझे विश्वास है कि आप इसके बारे में जानते होंगे? स्टॉप लॉस आपको बिकवाली से रोकता है अगर कोई स्टॉक बहुत ज़्यादा नुकसान दे रहा हो इस तरह आपको नुकसान से बचाता है। इस विकल्प के बिना आप बेट्मेन मूवी कि तरह बिना रस्सी के कूद रहे हैं। याद रखिए दोस्तों कोई भी निवेश कर सकता है अपनी उम्र या व्यवसाय को इसमें बाधा न बनने दें। अपनी निवेश संबंधी सूचना का इस्तेमाल करें और विशेषज्ञ की मुफ्त सलाह के लिए एंजेल ब्रोकिंग के यू ट्यूब व वैबसाइट पर जाएँ। निवेश जोखिमों के आधीन है कृपया निवेश से पहले सभी दस्तावेजों को ध्यान से पढे।