How to choose Multibagger stocks in 2021 | Hindi

Podcast Duration: 06:04

नमस्ते दोस्तों स्वागत है आपका एंजेल ब्रोकिंग के इस पॉडकास्ट में। दोस्तों शेयर बाज़ार के बारे में चर्चा करते हुए सभी विशेषज्ञ आपको यह सलाह ज़रूर देंगे- की शेयर बाज़ार में आप रातो रात अमीर नहीं बन सकते। स्टॉक मार्केट में पैसे बनाने के लिए आपको संयम, मेहनत, और बहुत ही संतुलित दिमाग की ज़रूरत है। लेकिन इसके साथ ही आप शेयर बाज़ार की न्यूज़ में कुछ ऐसे स्टॉक भी देखोगे जो कुछ ही सालों में कई सौ गुना पॉइंट्स की बढ़त ले लेते हैं। चलिये उस तरह के स्टॉक के बारे में किसी और दिन चर्चा करेंगे। आज हम चर्चा करते हैं मल्टी बेगर स्टॉक की, क्योंकि कल हम मल्टी बेगर स्टॉक के बारे में चर्चा कर रहे थे। कल मैं नितिन के घर के बाहर खड़ी होकर उससे बात कर रही थी। यार लॉकडाउन के टाइम पर कोई भी इनफेक्ट होने का रिस्क नहीं लेना चाहता। और नितिन ने मल्टी बेगर स्टॉक शब्द का ज़िक्र किया पर उसके पास गूगल करके उसका मतलब ढूंढने का टाइम नहीं था। तो इसलिए उसने मुझसे पूछा। फिर बात होते होते हम उसके घर की छत पर चले गए। क्या मैं अपनी बात से भटक गयी? हम मल्टी बेगर स्टॉक की बात कर रहे थे - तो ये मल्टी बेगर स्टॉक किन स्टॉक को बोलते हैं? वो स्टॉक जिन पर रिटर्न निवेश से कई गुना ज़्यादा होते हैं, नितिन के हिसाब से ये अमीर बनने का एक बड़ा ही स्टायलिश तरीका है। लेकिन उसने मुझसे अगला प्रश्न ये पूछा की मल्टी बेगर स्टॉक में निवेश कैसे किया जाए- दूसरे शब्दों में उन्हे पहचाना कैसे जाये? और इसी के बारे में हम आज बात करेंगे - आप 2021 में मल्टी बेगर स्टॉक को कैसे चूस कर सकते हो। तो चलो शुरू करते हैं। दोस्तों मल्टी बेगर स्टॉक पिक करने की सबसे बड़ी समस्या यह होती है कि कोई भी स्टॉक तब ही मल्टी बेगर स्टॉक कहलता सकता है जब उसने कई गुना रिटर्न दिये हों।लेकिन तब तक वो कई गुना बढ़ चुके होते हैं , इसलिए मल्टी बेगर एक पूर्व व्यापी टर्म है। जैसे कि आप किसी घटना को दुर्घटना तब तक नहीं कह सकते जब तक वो सच मैं ना हो जाये। पर बुरा मत मानिए मल्टी बेगर स्टॉक दुर्घटना नहीं हैं- और दूरदर्शी निवेशक उन्हें पहले से ही पहचान लेते हैं। तो चलिये देखते हैं 2021 के मल्टी बेगर स्टॉक कौन से हैं?सीक्रेट नंबर 1- बड़े मार्जिन वाले व्यापारों को देखिये। मूलत : हर मल्टी बेगर स्टॉक के पीछे एक कंपनी होती है जो ऐसे व्यापार में हो जिसमें बड़े मार्जिन हैं और यह बाकी सभी कंपनियों से काफी बड़ी होती हैं। जैसे भारत में टेलीकॉम इंडस्ट्री बहुत कम मार्जिन पर चलती है, लेकिन पॉलिमर, तकनीकी और सबसे नया दवाइयाँ बनाने के व्यापार काफी बड़े मार्जिन के व्यापार बनकर उभरें हैं। सीक्रेट नंबर दो- व्यापार और उससे मिलने वाला लाभ कहाँ से आता है को समझिए ,दोस्तों अगर कोई व्यापार किसी देश में ऑपरेट कर रहा है तो वैसे वहाँ एक दो और व्यापार भी चल रहे होंगे। अगर सिर्फ एक ही कंपनी उस तरह का व्यापार कर रही होगी तो उसकी मोनोपोली हो जाएगी है ना ! जब एक से ज्यादा बिज़नस होते हैं तो उनमें प्रतिस्पर्धा होती है , ज्यादा कस्टमर, ज्यादा मुनाफा और ज्यादा मार्केट शेयर लेने की दौड़ होती है। मलतीबेगर स्टॉक के बिज़नस कोई बड़ी फाड़े के साथ ओपेरेट करते हैं। जैसे की एक म्यूचुअल फ़ंड हाउस ने सेटेलाइट के इमेजिस यूस करके एक रिटेल चैन बिज़नस के पार्किंग ट्राफिक से उसके स्टॉक की कीमतों का अनुमान लगाया था, तकनीकी का बेहतरीन इस्तेमाल इसमें एक फायदा था। तो ऐसे बिज़नस को ढूंढिए जो अपने विरोधियों से एक बड़े फ़ायदे के साथ ऑपरेट कर रहा हो , तकनीकी, प्रबंधन और संसाधनों के संबंध में। सीनियर मैनेजमेंट और संस्थापक की पूंजी को देखें। - दोस्तों मल्टी बेगर स्टॉक के पीछे व्यापार जगत के दिग्गज होते हैं। क्योंकि यह कंपनियाँ बहुत ऊंचे मार्जिन पर काम करती हैं उनके संस्थापकों में कंपनी को चलाने की प्रतिभा होती है। उनके शेयर में बहुत बड़ी मात्रा में संस्थापकों का पैसा लगा हुआ होता है। एक कुशल मैनेजमेंट के सभी गुण होता हैं , जैसे की ओद्योगिक नियमों के साथ समय पर कंपलाइन्स का पालन। ऐसे स्टॉक के पीछे कभी न भागें जो ऊंचे रिटर्न तो प्रॉमिस करते हैं पर उनके पीछे की मैनेजमेंट अवांछित कार्यों में संलग्न है। और आखिर में देखें की काश फलो मल्टी बेगर स्टॉक की कमाई पर शेयर का रैशियो कैसे बढ़ता है। क्योंकि ऐसे बिज़नस मोडेल कुछ इस तरह ऑपरेट करते हैं जिससे उन्हे अपनी कमाई का एक महत्वपूर्ण भाग निकाले बिना ही अपने साइज़ को बढ़ाने की छूट देता है। जैसे कि कोई कंपनी जिसके ज़्यादातर खर्च परिचालन से संबन्धित हैं बजाय के पूंजी के। ऐसी कंपनी को बढ़ाने में कम खर्च लगेगा और रिटर्न भी ज्यादा होंगे। तो दोस्तों यह कुछ तरीके हैं जिनके जरिये आप मल्टी बेगर स्टॉक को पहचान सकते हैं। जिनमें यह सारी विशेषताएँ हो तो उन्हे दोबारा से विसिट कीजिये पर नए नज़रिये के साथ। पर याद रखिए कि हर बिज़नस जो यह रिक्वाइरमेंट पूरी करते हैं मल्टी बेगर स्टॉक नहीं होते। इन स्टॉक्स को पहचानने के लिए थोड़ा अनुभव और आधारभूत योगिता भी चाहिए हॉट है। तो आपको यह पॉडकास्ट पसंद आया? तो आपको दूसरे पॉडकास्ट भी पसंद आएंगे जो शेयर बाज़ार में सही जगह निवेश के तरीके आपको सिखाएँगे। अगर आप ज्यादा जानकारी चाहते हैं तो हमारी वैबसाइट www. angelbroking.com पर विसिट कीजिये। मिलते हैं अगली बार तब तक के लिए एंजेल ब्रोकिंग की तरफ से अलविदा और शुभ निवेश। निवेश बाज़ार जोखिमों के आधीन है कृपया सभी दस्तावेज़ ध्यान से पढ़ लें।