मुफ्त में डीमैट खाता खोलें और 5 मिनट में ट्रेडिंग शुरू करें

हमारे 10 लाख + खुश ग्राहकों से जुड़े

Angel Broking के साथ डीमैट खाता ऑनलाइन कैसे खोलें?

स्टेप 1

Fill form for Opening Demat Account

Angel Broking के साथ डीमैट खाता खोलने के लिए लीड फॉर्म भरें

स्टेप 2

Complete Mobile Verification for Opening Demat Account

पंजीकृत मोबाइल नंबर पर मिले ओटीपी को दर्ज करें

स्टेप 3

Provide KYC Details to Open Demat Account

जन्म तिथि, पैन विवरण, ईमेल पता और बैंक खाता का विवरण भरें।

स्टेप 4

Receive Demat Account Opening Confirmation on Mail

आपके डीमैट खाते का विवरण आपके पंजीकृत मेल पते पर आपको भेजा जाता है

डीमैट खाता क्या है?

प्रारंभ में, स्टॉक और शेयरों का विनिमय भौतिक रूप से प्रमाण पत्र के माध्यम से किया जाता था। हालाँकि, इसमें लंबी कागजी कार्रवाई की जाती थी और इसमें काफी समय लगता था। इसका मुकाबला करने और एक इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का लाभ उठाने के लिए, जो पश्चिम और एशियाई बाजारों में लोकप्रिय हो रहा था, 1996 में शेयरों को अमूर्त रूप देने (डीमैटेरियलाइजेशन) (डीमैट) की प्रक्रिया शुरू की गई थी। भौतिक शेयर प्रमाणपत्रों को समतुल्य संख्या और मूल्य के इलेक्ट्रॉनिक रूप प्रतिभूतियों में परिवर्तित किया गया और निवेशक के डीमैट खाते में जमा किया गया। इस प्रकार, ट्रेडिंग का प्रादुर्भाव कुछ इस तरह से हुआ।

अधिक सरल दृष्टिकोण में, डीमैट खाते निवेशक को आसानी से कागजी कार्रवाई की आवश्यकता के बिना शेयरों और स्टॉक को खरीदने और बेचने के साथ-साथ अन्य उत्पादों की लेनदेन करने की अनुमति देते हैं।

Angel Broking के स्टॉक ब्रोकर के साथ पंजीकरण करके अपना डीमैट खाता खोलें

आपको डीमैट खाता खोलने की आवश्यकता क्यों है?

इस तरह के खाते आज महत्वपूर्ण के हैं, क्योंकि निवेश करने, ट्रेड करने और रखरखाव करने का पूरा वित्तीय मंच डिजिटल हो गया है। इसलिए, उपयोगकर्ता को एक सहज और सरल अनुभव देने के लिए डीमैट खाते आज एक आवश्यकता हैं। भारत के स्टॉक एक्सचेंजों में ट्रेड करने के लिए ये खाते आवश्यक हैं। हालाँकि सेबी - भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड, ने 500 शेयरों तक के व्यापार को भौतिक रूप में निपटाने की अनुमति दी है, लेकिन इन दिनों यह बेहतर विकल्प नहीं है, क्योंकि यह रखरखाव और ट्रैकिंग में अत्यधिक असुविधा का कारण बनता है।

यह खाता शेयरों, बांडों, सरकारी प्रतिभूतियों आदि जैसे वित्तीय साधनों के प्रमाण पत्र को प्रतिधारित करता है। इस प्रकार, खाता का अमूर्तकरण(डीमैटरियलाइजेशन), निवेशक को अपने निवेश को व्यवस्थित रूप से बनाए रखने के साथ ही किसी भी इच्छित उत्पाद को खरीदना और बेचना आसान बनाता है।

भौतिक शेयरों में निवेश करने का मतलब बहुत सी कागजी कार्रवाई करने के साथ एक जटिल प्रक्रिया से गुजरना होता है, और साथ ही इसमें नकली शेयर प्राप्त करने का जोखिम अधिक है। इस पूरी प्रक्रिया को सरल और सुव्यवस्थित रखने के लिए निवेशक को डीमैट खाता खोलने पर विचार करना चाहिए।

ऑनलाइन ट्रेडिंग, इस तरह के खाते में डिमैटरीकृत या इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप में शेयरों और प्रतिभूतियों को रखने में सक्षम बनाता है। भौतिक शेयर प्रमाणपत्रों को अपनी पहुँच बढ़ाने के लिए अमूर्तकरण (डिमटेरियलाइजेशन) इलेक्ट्रॉनिक रूप में इसे परिवर्तित करने की प्रक्रिया है

सेबी के दिशानिर्देशों के अनुसार, ऐसे खाते प्रत्येक शेयरधारक के लिए अनिवार्य हैं, जो स्टॉक और शेयर और अन्य उत्पादों का व्यापार करना चाहते हैं।

इसलिए, इलेक्ट्रॉनिक रूप से ट्रेडों को निपटाने के लिए, निवेशक को एक विशिष्ट डीमैट खाता संख्या की आवश्यकता होती है।

यह एक बैंक खाते के समान अवधारणा है; जिसमें बैंक पासबुक में रखे गए शेष राशि के डेबिट और क्रेडिट का रिकॉर्ड होता है। इसी तरह, जब किसी शेयर की खरीद या बिक्री की जाती है, तो उसे क्रमशः खाते में क्रेडिट या डेबिट किया जाएगा। इस प्रकार, इस तरह के खाते को रखने से निवेशक शेयर या किसी अन्य उत्पाद को खरीद और बेच सकता है, और उन्हें सही-सलामत रख सकता है।

डीमैट खाते का उपयोग एक्सचेंजों पर कारोबार करने वाले शेयरों, स्टॉक, इंडेक्स और गोल्ड, बॉन्ड, सरकारी प्रतिभूतियों, प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश (इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग) (आईपीओ), एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ), गैर-परिवर्तनीय डिबेंचर (एनसीडी), म्यूचुअल फंड आदि जैसे कई निवेशों को प्रतिधारित करने के लिए किया जा सकता है। आप किसी भी शेयर या उत्पाद को अपने पास रखे बिना शून्य शेष (जीरो बैलेंस) वाला डीमैट खाता खोल सकते हैं।

डीमैट खाते की कार्यपद्धति

आपके सभी शेयर और निवेश अर्थात् प्रतिभूतियाँ, बांड, म्यूचुअल फंड, सरकारी प्रतिभूतियाँ, ईटीएफ आपके डीमैट खाते में इलेक्ट्रॉनिक या डीमैट रूप में रखे जाते हैं। ऐसे खाते की कार्यप्रणाली से जुड़ी प्रक्रिया और निकायों को समझना अत्यावश्यक है। डीमैट खाते के मुख्य कार्य नीचे दिए गए हैं:

  • डिपॉजिटरी: वर्तमान में, सेबी के साथ दो डिपॉजिटरी पंजीकृत हैं (i) सीडीएसएल - सेंट्रल डिपॉजिटरी ऑफ सिक्योरिटीज लिमिटेड (ii) एनएसडीएल - नेशनल डिपॉजिटरी ऑफ सिक्योरिटीज लिमिटेड ये डिपॉजिटरी आपकी तरफ से आपका डीमैट खाता रखती हैं। कार्य प्रणाली किसी बैंक के समान है।
  • डिपॉजिटरी भागीदार(पार्टिसिपेंट) (डीपी): डिपॉजिटरी का एक एजेंट है जिसके माध्यम से डिपॉजिटरी निवेशक के साथ कार्य-व्यवहार करता है। सेबी द्वारा प्रस्तावित शर्तों का अनुपालन करने वाले वित्तीय संस्थान, अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक, भारत में परिचालन करने वाले भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा अनुमोदित विदेशी बैंक, भारतीय रिज़र्व बैंक, स्टॉक ब्रोकर, क्लीयरिंग कॉर्पोरेशन या घराने, राज्य वित्तीय निगम, एनबीएफसी, शेयर ट्रांसफर एजेंट आदि को एक डीपी के रूप में पंजीकृत किया जा सकता है। किसी शाखा के माध्यम से बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठाया जा सकता है; हालाँकि, डिपॉजिटरी सेवाओं का लाभ एक डीपी के माध्यम से लिया जा सकता है।
  • पोर्टफोलियो होल्डिंग: डीमैट खाता आपको हर बार लेन-देन करने के बाद अपने निवेश के पोर्टफोलियो होल्डिंग को देखने में सक्षम बनाता है। चूँकि यह एक स्वचालित प्रक्रिया है, इसलिए प्रत्येक खरीद और बिक्री की कीमत, खरीद की तारीख और समय, मात्रा आदि जैसे सूक्ष्मतम विवरण को दर्ज किया जाता है।
  • अद्वितीय (यूनिक) आईडी: हर एक डीमैट खाते की एक विशिष्ट सत्यापन पहचान संख्या होती है। इसका उपयोग लेनदेन के दौरान कंपनियों को विशिष्ट निवेशक के खाते के लिए प्रतिभूतियों की पहचान करने और उसमें क्रेडिट करने में सहायता करने के लिए किया जाता है। यह 16 अंकों की एक अद्वितीय संख्या है, जिसके पहले आठ अंक डीपी आईडी हैं, और अंतिम 8 ग्राहक आईडी (निवेशक खाता) है।

डीमैट खाता द्वारा प्रदान की जाने वाली सुविधाएँ

डीमैट खाता खोलने पर निवेशक को कई तरह की सुविधाएँ मिलती हैं। आइए, हम उनमें से कुछ को नीचे देखें:

  • निवेश का स्थानांतरण: एक डीमैट खाता में एक निवेशक के शेयरों का स्थानांतरण होता है। निवेश से संबंधित सभी बारीकियों के साथ डिलिवरी इंस्ट्रक्शन स्लिप (डीआईएस) भरने पर, यह शेयरों के सहज हस्तांतरण को सक्षम बनाता है। हालाँकि, यह केवल शेयरों तक सीमित नहीं है, बल्कि विभिन्न निवेश या प्रतिभूति होल्डिंग को भी इस तरह के खाते के माध्यम से हस्तांतरित किया जा सकता है।
  • अमूर्त रूप देना और पुनः मूर्त रूप देना (डिमटेरियलाइजेशन एंड रीमटेरियलाइजेशन): डीमैट खाता प्रतिभूतियों के रूपांतरण द्वारा विभिन्न प्रारूपों में आसानी से बदल देता है। अपने डीपी - डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट को डीमटेरियलाइजेशन के लिए निर्देश देकर आप भौतिक शेयर प्रमाणपत्र को इलेक्ट्रॉनिक रूप में परिवर्तित करने के लिए औपचारिकताओं को पूरा करने के लिए कह सकते हैं। दूसरी तरफ, निवेशक अपने इलेक्ट्रॉनिक सिक्योरिटी होल्डिंग को रीमटेरियलाइजेशन की प्रक्रिया के माध्यम से वापस भौतिक रूप में परिवर्तित करवा सकता है, जिसमें एक आरआरएफ - रीमैट रिक्वेस्ट फॉर्म को डीपी को भरना है।
  • ऋण सुविधा: निवेशक को बैंक या वित्तीय संस्थान से ऋण के लिए आवेदन करने में सक्षम बनाने के लिए उसके खाते में रखी गई प्रतिभूतियाँ उसकी होल्डिंग के बारे में सटीक और विस्तृत विवरण प्रदान कर सकती हैं। प्रतिभूतियों को ऋण के लिए संपार्श्विक के रूप में प्रदान किया जा सकता है।
  • कॉरपोरेट कार्य: ऐसे खाते निवेशक को उसकी प्रतिभूतियों पर नजर रखने और बनाए रखने में सहायता करते हैं। यह विशेष रूप से किसी भी इक्विटी शेयर के विभाजन की निगरानी, बोनस के मुद्दों या कंपनियों द्वारा अपने शेयरधारकों के लिए किए गए किसी अन्य कार्रवाई के लिए आवश्यक है। ये सीधे खाते में अद्यतित किए जाते हैं।
  • अपने डीमैट खाते को फ्रीज करना: निवेशकों को आपके खाते को एक विशिष्ट अवधि या आवश्यकता के अनुसार फ्रीज करने का विकल्प प्रदान किया जाता है। खाते में अप्रत्याशित गतिविधियों को रोकने के लिए कई बार ऐसा किया जाता है। हालाँकि, इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए निवेशक के खाते में एक विशेष मात्रा में शेयर मौजूद होना चाहिए।
  • स्पीड ई सुविधा: एनएसडीएल ने अपने निवेशकों को एक ई-स्लिप जमा करने के माध्यम से किसी लेनदेन को पूरा करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक सुविधा प्रदान की है, जो बाद में उनके डीपी को भेजी जाती है।

Angel Broking सेवाएँ अपने निवेशकों को ये डीमैट सुविधाएँ प्रदान करती हैं और ट्रेडिंग के लिए अधिक सुविधाजनक और आसान तरीके प्रदान कर सकती हैं।

डीमैट खाता कैसे खोलें

इन सरल चरणों के साथ डीमैट खाता खोलना एक आसान प्रक्रिया है:

  • चरण 1: खाता खोलने के लिए एक डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (डीपी) चुनें। डिपॉजिटरी के साथ एक लाभ प्राप्तकर्ता मालिक (बेनिफिशियल ओनर) (बीओ) खाता खोला जाता है।
  • चरण 2: पता का प्रमाण, पहचान का प्रमाण, आय का प्रमाण आदि दस्तावेजों की प्रतियों के साथ निवेशक का सभी विवरण देते हुए खाता खोलने का एक फॉर्म भरा जाना चाहिए। खाता खोलने के लिए पैन कार्ड अनिवार्य है। सत्यापन के लिए सभी दस्तावेज मूल रूप में प्रस्तुत किए जाने चाहिए।
  • चरण 3: नियमों और विनियमों की एक प्रति के साथ ही आपके द्वारा डीपी को भुगतान किए जाने वाले आवश्यक शुल्क का विवरण आपको प्रदान किया जाएगा। निवेशक द्वारा प्रदान किए गए सभी विवरण और दस्तावेजों की पुष्टि करने के लिए डीपी के एक प्रतिनिधि द्वारा व्यक्तिगत रूप से सत्यापन किया जाएगा।
  • चरण 4 - अनुमोदित होने और दस्तावेज जमा हो जाने के बाद, आपका डीमैट खाता खोला जाता है, और चालू कर दिया जाता है।

कोई निवेशक किसी भी बैंक या वित्तीय संस्थान के माध्यम से मिनटों में ऑनलाइन खाता खोल सकता है। ऑनलाइन खाता खोलने के लिए कई विकल्प उपलब्ध हैं; ऐसा ही एक विकल्प Angel Broking है।

हालाँकि, खाता खोलने में कुछ शुल्क लगता है, जिसमें वार्षिक रखरखाव शुल्क, डीपी द्वारा किए गए प्रत्येक लेनदेन के लिए लेनदेन शुल्क या कमीशन शामिल है। इसके अतिरिक्त, डीपी के आधार पर शेयरों को अमूर्तरूप देने (डीमैटरियलाइजेशन) के लिए शुल्क लिया जा सकता है। लेकिन इसका उज्जवल पक्ष है कि इसमें न्यूनतम शेष बनाए रखने के लिए कोई शासनादेश नहीं है। ऐसे खाते अपने पास किसी प्रतिभूति को रखे बिना खोले जा सकते हैं।

Angel Broking के साथ मुफ्त में डीमैट खाता खोलें
पूरे जीवन के लिए मुफ्त में इक्विटी डिलीवरी का आनंद लें
Angel Broking के साथ डीमैट खाता क्यों खोलें?
Competitive brokerage plan for opening demat and trading account

निवेश प्रोफ़ाइल के आधार पर हमारे पास एक लचीला ब्रोकरेज है।

इक्विटी डिलीवरी के लिए ₹0 कोई छुपा हुआ शुल्क नहीं

इंट्राडे, एफ एंड ओ, मुद्रा और कमोडिटी के लिए ₹ 20 /ऑर्डर

Angel Broking's ARQ for personalized investment recommendation

भविष्य के अपने संभावित निवेश विकल्प के लिए व्यक्तिगत निवेश अनुशंसा प्राप्त करें।

Simplified trading platform for hassle free trading

ARQ द्वारा संचालित हमारे सुरक्षित और ठोस प्लेटफार्मों के साथ कई निवेश वर्गों तक पहुँच प्राप्त करें।

Expert Investment for better investment option

हमारा समर्पित अनुसंधान दल तकनीकी, बुनियादी बातों, डेरिवेटिव, कमोडिटी, मुद्रा, स्टॉक मार्केट आउटलुक, आईपीओ समीक्षा, और पोर्टफोलियो प्रबंधन पर विस्तृत शोध रिपोर्ट के साथ आपकी मदद करता है।

Most Competitive Brokerage Plan

We have a Flexible Brokerage based on investing profile.

₹0 for Equity Delivery. No hidden charges

₹20/Order for Intraday, F&O, Currency & Commodity.

ARQ - The Hyper Intelligent Investment Engine

Get personalized investment recommendation for your potential future investment option.

Expert Research Advisory

Our dedicated research team helps you with detailed research reports on technical, fundamentals, derivatives, commodities, currency, stock market outlook, IPO views, & portfolio management.

Simplified Trading Platform

Get access to the multiple investment classes with our secure and robust platforms, powered by ARQ.

एंजेल डीमैट अकाउंट के फायदे

Trading Company in the Industry since 1987

१९८७ से इंडस्ट्री में कार्यरत है|

Technology Enabled Demat Account

डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट के लिए सक्षम टेक्नोलॉजी

Technical and Fundamental Research Guidance

तकनिकी और फंडामेंटल रिसर्च और मार्गदर्शन

धारण करने में आसान

चूँकि प्रतिभूतियों को इलेक्ट्रॉनिक रूप में रखा जाता है, इसलिए इसमें कोई भंडारण जोखिम नहीं है। निवेशक के खाते की देखरेख और सुरक्षा के लिए डीपी जिम्मेदार है। एक प्रतिभूति खाते को सबसे आसान और सुरक्षित रूप में रखने का उपाय एक डीमैट खाता खोलना है। खाता निवेशक को अपने परिजनों को नामांकित करने की भी अनुमति देता है। निर्दिष्ट नामांकित व्यक्ति के लिए प्रतिभूतियों का स्वचालित हस्तांतरण किया जाता है।

स्वचालित अद्यतन

खाते में सभी प्रतिभूतियों के लिए एक आम खाता होने के बावजूद निवेशक को हर बार डीपी के माध्यम से लेनदेन करने के लिए अपना विवरण प्रदान नहीं करना पड़ता है। निवेशक का प्रतिनिधित्व उनके यूनिक आईडी के साथ जुड़ा हुआ खाता करता है, और उसमें सभी विवरण सूचीबद्ध है। इस प्रकार, प्रत्येक लेनदेन बारीकियों के साथ स्वचालित रूप से अद्यतित किया जाता है।

सामान्य डिपॉजिटरी

खाता खोलने से न केवल शेयरों के व्यापार में सहायता मिलती है। यह बॉन्ड, एनसीडी, सरकारी प्रतिभूतियों, म्यूचुअल फंड आदि जैसे डेट इंस्ट्रूमेंट्स के लिए भी काम करता है। कोई निवेशक एक ही खाते में सभी निवेशों को रख सकता है।


ऑड – लॉट के शेयरों का समाधान

निवेशक के खाता खोलने में सक्षम होने के साथ, निवेशकों के लिए एकल या विषम संख्या में प्रतिभूतियों के लेन-देन करने की समस्या का समाधान किया गया है। ऐतिहासिक रूप से, बाजार में शेयर केवल लॉट में बेचे जाते थे। हालाँकि, आज निवेशक बिना किसी शर्त के किसी भी संख्या में शेयर को खरीद या बेच सकता है।

जोखिम की डिलीवरी

डीमैट खाते का सबसे बड़ा लाभ इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्रक्रिया है। प्रारंभ में, नकली शेयरों, प्रतिभूतियों की चोरी और गलत डिलीवरी का जोखिम अधिक था। इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली आज शेयरों की मात्रा और राशि की परवाह किए बिना, प्रतिभूतियों को सीधे निवेशक के खाते में स्वचालित रूप से क्रेडिट कर देगी।

लागत में कमी

वर्तमान में, डीमैट खाते में प्रतिभूतियों के लिए स्टांप ड्यूटी की आवश्यकता नहीं है। इसके परिणामस्वरूप, निवेशक के लागत में काफी कमी आई है। पहले, प्रत्येक शेयर के लिए स्टाम्प ड्यूटी 0.5 प्रतिशत थी। हालाँकि, यह खाते के माध्यम से पूरी तरह से समाप्त हो गया है।

100% डिजिटल खाता खोलना

पूरी तरह से कागज रहित डीमैट खाता खोलने की प्रक्रिया। आप बस अपना पैन नंबर, जन्म तिथि भरें और बाकी काम हम करेंगे।

30+ वर्षों का विश्वास

हम 10 लाख + से अधिक निवेशकों और 4000 + टच पॉइंट्स के साथ भारत में सबसे बड़े पूर्ण सेवा खुदरा ब्रोकिंग घरानों में से एक हैं, और बढ़ रहे हैं

हमारे निवेश उत्पादों का अन्वेषण करें और रोमांचक पुरस्कार प्राप्त करें

डीमैट और ट्रेडिंग खाते पर वर्तमान ऑफर के बारे में अधिक जानें

निर्बाध व्यापार के लिए टू–इन-वन खाता

टू-इन-वन खाता खोलकर आप इक्विटी, आईपीओ, कमोडिटी, मुद्रा, डेरिवेटिव, म्यूचुअल फंडों में निर्बाध रूप से व्यापार और निवेश कर सकते हैं।

मुफ्त में डीमैट खाता खोलें और 15 मिनट में ट्रेडिंग शुरू करें
पूरे जीवन के लिए मुफ्त में इक्विटी डिलीवरी का आनंद लें
डीमैट खाता खोलने के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

डीमैट खाते कितने प्रकार के हैं?

  • नियमित डीमैट खाता- भारत में रहने वाले व्यापारी इस प्रकार के खाते का उपयोग करते हैं।
  • रिपैट्रिएबल डीमैट खाता – यह खाता अनिवासी भारतीयों के लिए उपयोगी है क्योंकि यह विदेश में धन हस्तांतरण की अनुमति देता है। इसके लिए एक संबद्ध एनआरई बैंक खाते की आवश्यकता है।
  • नॉन-रिपैट्रिएबल डीमैट खाता – यह खाता भी अनिवासी भारतीयों के लिए है। हालाँकि, इस मामले में, धन विदेश में स्थानांतरित नहीं किया जा सकता है, और इस खाते में एक संबद्ध एनआरओ बैंक खाते की आवश्यकता है।

खाता खोलने का शुल्क कितना हैं? क्या यह मुफ्त है?

हाँ, डीमैट खाता खोलना निःशुल्क है। हालाँकि, लागू सेवा कर के साथ, 450/- रुपया का वार्षिक रखरखाव शुल्क और पीओए के लिए एक बार का शुल्क 50/- रुपया और केआरए के लिए 36/- रुपया शुल्क के रूप में देय है।

हालाँकि, मुफ्त डीमैट और ट्रेडिंग खाता खोलने के बारे में अधिक जानने के लिए यहाँ क्लिक करें ।

डीमैट खाता खोलने के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता है?

Angel Broking के साथ खाता खोलना 100% कागज रहित प्रक्रिया है। खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज निम्नलिखित हैं।

पहचान प्रमाण के दस्तावेज

  • पैनकार्ड
  • पासपोर्ट
  • वोटर आईडी

पता का प्रमाण वाले दस्तावेज

  • पासपोर्ट
  • वोटर आईडी
  • पंजीकृत पट्टा या बिक्री समझौता
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • उपयोगिता बिल
  • बैंक पासबुक

मैं किस प्रकार का खाता खोल सकता हूँ?

Angel broking के साथ आप निम्नलिखित प्रकार के खाते खोल सकते हैं

  • डीमैट खाता – एक खाता जहाँ आप प्रतिभूतियों को इलेक्ट्रॉनिक रूप में रख सकते हैं, जिसमें प्रतिभूतियों को क्रेडिट और डेबिट किया जाता है।
  • ट्रेडिंग खाता – एक खाता, जिसका उपयोग आप शेयर बाजार में इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप में रखी गई प्रतिभूतियों को खरीदने और बेचने के लिए कर सकते हैं।
  • डीमैट + ट्रेडिंग खाता – एक खाता जहाँ इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप में आप प्रतिभूतियों को रख सकते हैं, और उसे शेयर बाजार में खरीदा या बेचा जा सकता है।

डीमैट खाता कौन खोल सकता है?

कोई भी व्यक्ति जो भारत का निवासी है, और पहचान के लिए आवश्यक प्रमाण, पता का प्रमाण, आय का प्रमाण प्रस्तुत करता है, भारत में स्टॉक एक्सचेंजों के माध्यम से प्रतिभूतियों और अन्य उपकरणों को खरीदने और बेचने के लिए डीमैट खाता खोल सकता है।

डीमैट खाते की विशेषताएँ और लाभ क्या हैं?

  • इलेक्ट्रॉनिक रूप में प्रतिभूतियों को रखने के कारण कम कागजी कार्रवाई और ग्राहक को कोई परेशानी नहीं है।
  • शेयरों पर नजर रखने का सुरक्षित और सुविधाजनक तरीका
  • शेयरों का त्वरित हस्तांतरण
  • आसान रख-रखाव, भंडारण का जोखिम नहीं – कागजी प्रमाणपत्रों के विपरीत, अमूर्त किए गए (डीमेटरलाइज्ड) स्टॉक और शेयरों की चोरी नहीं हो सकती है, या उन्हें क्षति नहीं पहुँचाई जा सकती है, या इनके साथ धोखाधड़ी नहीं की जा सकती है।

क्या कोई एनआरआई डीमैट खाता खोल सकता है?

हाँ, एक एनआरआई डीमैट खाता खोल सकता है; हालाँकि फेमा – फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट के नियम लागू होंगे।

भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) के अनुसार, कोई एनआरआई भारत में पंजीकृत कंपनी में प्रदत्त पूंजी (पेड-अप कैपिटल) का केवल 5% तक का स्वामित्व रख सकता है। कोई एनआरआई आईपीओ – इनिशियल पब्लिक ऑफर में निवेश कर सकता है, हालाँकि, यह एनआरई डीमैट फंड का उपयोग अपने एनआरई (नॉन-रेजिडेंट एक्सटर्नल) रुपया बैंक खाते के माध्यम से स्वदेश भेजने योग्य (रीपैट्रिएबल) आधार पर होता है। फिर भी, यदि एनआरआई स्वदेश नहीं भेजने योग्य (नॉन-रीपैट्रिएबल) आधार पर निवेश करता है, तो उनका एनआरओ (गैर-निवासी साधारण) रुपया खाता और एनआरओ डीमैट खाता संचालित किया जाएगा।

पिन – पोर्टफोलियो निवेश योजना के माध्यम से एक एनआरआई को भारत में अपने खाते के माध्यम से शेयरों और म्यूचुअल फंड का लेनदेन करने की अनुमति है।

क्या डीमैट खाता में नामांकन की सुविधा उपलब्ध है?

हाँ, डीमैट अकाउंट में नामांकन की सुविधा उपलब्ध है।

सभी व्यक्तिगत लाभार्थियों को इस सुविधा का लाभ उठाने की सलाह दी जाती है। निवासी व्यक्ति, एनआरआई, जिनके पास वर्तमान में एकल या संयुक्त खाता है, या वे नए एकल या संयुक्त खाते खोल रहे हैं, किसी को नामांकित कर सकते हैं। यदि खाता संयुक्त रूप से रखा जाता है तो सभी संयुक्त खाताधारकों को नामांकन फार्म पर हस्ताक्षर करने की आवश्यकता है। आवश्यकतानुसार नामांकन बदला या अद्यतित किया जा सकता है। हालाँकि, समाज सहित गैर-व्यक्ति, हिंदू अविभाजित परिवार के कर्ता, ट्रस्ट, कॉर्पोरेट निकाय या पावर ऑफ अटॉर्नी धारक नामांकन नहीं कर सकते हैं।

क्या मैं कई डीमैट खाते खोल सकता हूँ?

हाँ, एक निवेशक द्वारा कई डीमैट खाते खोले जा सकते हैं। एक निवेशक उसी नाम से उसी डीपी के साथ-साथ अन्य डीपी के साथ एक से अधिक खाता खोल सकता है। हालाँकि, सभी खातों के लिए निवेशक को केवाईसी नियमों का कड़ाई से पालन करना है और सेबी द्वारा निर्धारित पहचान का प्रमाण, पता का प्रमाण और अन्य दस्तावेजी साक्ष्यों को प्रदान करना है। निवेशक का पैन कार्ड अनिवार्य है और खाता खोलते समय उसे प्रस्तुत करना होता है।

क्या डीमैट खाता संयुक्त रूप से खोला जा सकता है?

हाँ, एक डीमैट खाता संयुक्त रूप से खोला जा सकता है। हालाँकि, एक डीमैट खाते में अधिकतम तीन खाताधारक हो सकते हैं, जिनमें एक मुख्य धारक और दो संयुक्त खाताधारक हैं

क्या डीमैट खाता हस्तांतरित किया जा सकता है?

हाँ, किसी डीमैट खाता को एक डीपी से दूसरे डीपी को हस्तांतरित किया जा सकता है। निवेशक को निर्धारित प्रपत्र में अपने डीपी को हस्तांतरण या बंद करने का अनुरोध प्रस्तुत करना होता है। उक्त डीपी निवेशकों के निर्देशों के अनुसार खाते में मौजूद सभी प्रतिभूतियों और निवेशों को नए डीपी खाते में स्थानांतरित कर देगा।

क्या भारत में आईपीओ के लिए आवेदन करने के लिए डीमैट खाता अनिवार्य है?

भौतिक रूप में आईपीओ के शेयरों के लिए आवेदन करने और प्राप्त करने का विकल्प निवेशक को दिया जाता है। हालाँकि, आईपीओ के लिए डीमैट रूप के माध्यम से आवेदन करना उपयुक्त होता है क्योंकि आईपीओ के माध्यम से जारी किए गए शेयर केवल डीमैट रूप में ही ट्रेड किए जा सकते हैं

क्या एसआईपी के लिए मुझे डीमैट खाते की आवश्यकता है?

नहीं, एक डीमैट खाता मुख्य रूप से स्टॉक एक्सचेंज पर शेयरों के लेनदेन के लिए है। एसआईपी सहित किसी भी प्रकार का म्युचुअल फंड निवेश सीधे निवेशक द्वारा या बैंक या वित्तीय संस्थान के माध्यम से किया जा सकता है।

हमारे उत्पाद

इस स्मार्ट मोबाइल ट्रेडिंग ऐप के साथ तेज और सुरक्षित ट्रेडिंग का अनुभव करें।

ब्राउजर-आधारित ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म।

एक ट्रेडिंग सॉफ्टवेयर जो ग्राहक को ट्रेड मॉनिटर करने की क्षमताओं के साथ एकल खिड़की ट्रेडिंग अनुभव प्रदान करता है।.

पुरस्कार और वाहवाही

भारत में वर्ष 2018 के सर्वश्रेष्ठ व्यापार मंच के लिए सीईओ पुरस्कार

टेस्टला द्वारा आयोजित बीएसई कमोडिटी इक्विटी आउटलुक सप्ताहांत 2018 में एंजेल बीईई को वर्ष 2018 के म्यूचुअल फंड निवेश के लिए सर्वश्रेष्ठ मोबाइल ऐप के लिए सीईओ पुरस्कार दिया गया था।

BusinessEx.Com द्वारा प्रस्तुत मॉनीटेक अवॉर्ड्स 2017 में फिनटेक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म ऑफ़ द ईयर पुरस्कार

Tefla द्वारा आयोजित एसोचैम उत्कृष्टता पुरस्कार सप्ताहांत 2018 में कमोडिटी फ्यूचर्स में सर्वश्रेष्ठ बाजार विश्लेषक पुरस्कार

What Our Happy Partners Have to Say About Us?

"रिश्ता प्रबंधक न सिर्फ प्रतिक्रिया देने में जल्दी करते हैं, बल्कि वे वास्तव में मेरे सभी प्रश्नों को ठीक से हल भी करते हैं। मुझे ARQ की सिफारिशें भी बहुत अच्छी लगती हैं, जिससे ट्रेडिंग आसान हो जाता है। शाबाश!!"

नीतू दूबे

"Angel Broking के पास उपयोग में आसान वेब-पोर्टल और मोबाइल ऐप है। इसके अलावा मैं Angel को उनकी उत्कृष्ट प्रतिक्रिया प्रणाली, बढ़िया प्रशिक्षण प्रणाली और डीलरों की एक नैतिक और उत्साही टीम के लिए बधाई देता हूँ। मैं टीम Angel को धन्यवाद देना हूँ और उन्हें संगठन के रूप में बढ़िया भविष्य की शुभकामनाएं देता हूँ।"

परेश ए शर्मा

"मैं Angel Broking दल को शानदार सेवा और अनुवर्ती कार्यवाही के लिए बधाई देता हूँ। मैं ऐप के साथ-साथ टेली-सहायता प्रदान किए जाने से बहुत संतुष्ट हूँ। मुझे म्यूचुअल फंड और स्टॉक दोनों में अच्छी सलाह मिली। कुल मिलाकर, Angel के साथ मेरा ट्रेडिंग का अनुभव काफी अच्छा रहा है।"

डॉ. गजाननकुमार के अग्रवाल

"Angel Broking के साथ मेरा अनुभव अच्छा है और Angel द्वारा नियुक्त खासकर संबंध प्रबंधक बहुत तेज, उत्तरदायी और मेहनती हैं। मुझे यह देखकर खुशी हुई कि Angel Broking के पास एक अच्छा अनुसंधान दल है, क्योंकि उसकी ज्यादातर सिफारिशें अच्छा रिटर्न देती हैं।"

सेयम एस जैन

Please note that by submitting the above mentioned details, you are authorizing us to Call/SMS you even though you may be registered under DND. We shall Call/SMS you for a period of 12 months.

*T&C Apply
Disclaimer:

‘Investments in securities market are subject to market risk, read all the related documents carefully before investing.’ Angel Broking Limited (formerly known as Angel Broking Private Limited), Registered Office: G-1, Ackruti Trade Centre, Road No. 7, MIDC, Andheri (E), Mumbai – 400 093. Tel: (022)42319600. Fax: (022) 42319607, website: www.angelbroking.com, CIN: U67120MH1996PLC101709, BSE Cash/F&O: INB010996539 /INF010996539, NSE Cash/F&O/CD: INB231279838/INF231279838/ INE231279838, MSEI: INE261279838, CDSL Regn. No.: IN - DP - CDSL - 234 – 2004, PMS Regn. No.: PM/INP000001546, Research Analyst SEBI Regn. No.: INH000000164, AMFI Registration No. ARN – 77404 Compliance officer: Mr. Rajiv Kejriwal, Tel: (022) 39413940 Email: [email protected]

We collect, retain, and use your contact information for legitimate business purposes only, to contact you and to provide you information & latest updates regarding our products & services. We do not sell or rent your contact information to third parties.
Please note that by submitting the above mentioned details, you are authorizing us to Call/SMS you even though you may be registered under DND. We shall Call/SMS you for a period of 12 months

Copyright - All rights reserved
Open an account