शेयर मार्किट के निवेशकों को मार्किट खुलने और बंद होने के समय का पता होना चाहिए ताकि वह सही समय पर सुचारू लेनदेन सुनिश्चित कर सकें।

अगर आप शेयर मार्किट में निवेश कर रहे हैं तो आपको शेयर मार्किट के खुलने और बंद होने के समय के बारे में सब पता होना चाहिए। शेयर मार्किट खुलने और बंद होने का समय, अलगअलग सूचकांक और विभिन्न समय क्षेत्रों के विभिन्न देशों के लिए भिन्न होता है। शेयर मार्किट सिर्फ कुछ छुट्टियों को छोड़कर, सप्ताह के सभी दिन खुलता है। यदि कोई निवेशक शेयर मार्किट की समय सारणी को नहीं जानता है, तो मार्किट में स्टॉक के उतार-चढ़ाव का उपयोग करके पैसा बनाना संभव नहीं है।

अब हम भारत के दो प्रमुख सूचकांकों, बीएसई और एनएसई के लिए शेयर मार्किट खुलने औए बंद होने का समय देखेंगे।

बीएसई और एनएसई के लिए शेयर मार्किट का समय: मार्किट एक प्री-ओपन सत्र के साथ शुरू होता है।

प्रीओपन सत्र 15 मिनट का होता है। इस सत्र में ऑर्डर एंट्री अवधि और ऑर्डर मैचिंग अवधि को निर्धारित करता है।

यह सत्र तीन उपसत्रों में बांटा गया है।

सुबह 9.00 बजे से 9.08 बजे तक: इसे ऑर्डर एंट्री सत्र के रूप में जाना जाता है। इस अवधि के दौरान आपको स्टॉक खरीदने और बेचने का ऑर्डर देने की अनुमति होती है। आप इस समय में ऑर्डर को संशोधित या रद्द भी कर सकते हैं।

सुबह 9.08 बजे से 9.12 बजे तक: इस सत्र का उपयोग ऑर्डर मैचिंग और नियमित सत्र की शुरुआती कीमत की गणना करनेके लिए किया जाता है। निवेशको को इस अवधि के दौरान अपने ऑर्डर को संशोधित या रद्द करने की अनुमति नहीं होती है; ही वे खरीद या बेच सकते हैं।

सुबह 9.12 बजे से 9.15 बजे तक

प्री-ओपनिंग सत्र को बिना किसी परेशानी नियमित सत्र में बदलने के लिए, इस समय को बफर अवधि के रूप में उपयोग किया जाता है।

कंटीन्यूअस ट्रेडिंग सत्र: जब शेयर मार्किट की समयसारणी की बात आती है, तो यह वो ट्रेडिंग सत्र होता है जब अधिकांश खरीद-फ़रोख्त होती है। तो, यह शेयर मार्किट का मुख्य ट्रेडिंग समय है। कंटीन्यूअस ट्रेडिंग सत्र सुबह 9.15 बजे से लेकर दोपहर 3.30 बजे तक होता है।इस अवधि के दौरान निरंतर रूप से ट्रेडिंग चलती है और जब भी खरीद मूल्य; बिक्री मूल्य के बराबर होता है, लेनदेन पूरा हो जाता है।

इस सत्र को समझने के लिए कुछ ज़रूरी बातें:

 

– स्टॉक के समापन मूल्य की गणना दोपहर 3.00 बजे से 3.30 बजे के बीच स्टॉक्स की कीमतों के वेटेड एवरेज के रूप में  की जाती है।

– बीएसई और एनएसई के लिए, समापन मूल्य की गणना पिछले 30 मिनट या दोपहर 3.00 बजे से 3.30 बजे तक के बीच की अवधि के लिए सूचकांक में स्टॉक के वेटेड एवरेज के रूप में की जाती है।

 

पोस्टक्लोजिंग सत्र: यह सत्र दोपहर 3.40 बजे से शाम 4.00 बजे के बीच होता है

इस सत्र में निवेशकों को समापन मूल्य पर स्टॉक्स खरीदने पर बेचने की अनुमति दी जाती है। यदि खरीदार या विक्रेता उपलब्ध हैं, तो आप समापन मूल्य पर ट्रेड कर पायेंगे।

ब्लाक डील का समय: बड़े ट्रेड्स के निष्पादन की सुविधा के लिए एक अलग ट्रेडिंग विंडो उपलब्ध है।

सुबह में ब्लाक डील विंडो का समय 8.45 बजे से 9 बजे तक है।

दोपहर में ब्लाक डील विंडो का समय 2.05 से 2.20 बजे तक है।

अब आपको शेयर मार्किट की समय सारणी पता है; इसलिए आप शेयर मार्किट में निवेश करके खूब लाभ कमा सकते हैं।