विकल्प कारोबार की दुनिया में दो घटकों की आवश्यकता होती है जिसकी जरूरत किसी भी कारोबार को होती है – एक खरीदार और विक्रेता। जबकि विकल्पों को खरीदने की बात आती है तो हो सकता है कि आपने अपने हिस्से का उचित शोध कर लिया हो, विकल्प के विक्रेता होने के बारे में अधिक जानना उपयुक्त है। विशेष रूप से, कॉल विकल्पों की बिक्री के लिए कुछ रणनीतियों की आवश्यकता होती है जो विक्रेता को विशिष्ट बाजार स्थितियों में लाभ बनाने की अनुमति देती है। यहां पर वह सब दिया गया है, विकल्पों को बेचने के बारे में जिसे जानने की आवश्यकता आपको हो सकती है।

कॉल विकल्प क्या है?

‘कॉल विकल्प बेचना क्या है?’ इस प्रश्न का उत्तर जानने के क्रम में आइए कॉल विकल्पों की मूल अवधारणा और वे किसी निवेशक के लिए कैसे प्रासंगिक हैं, इसकी समीक्षा करें।

हम जानते हैं कि विकल्प वित्तीय साधन हैं जो अपना मूल्य एक अंतर्निहित परिसंपत्ति से प्राप्त करते हैं। एक कॉल विकल्प अनिवार्य रूप से एक प्रकार का डेरिवेटिव अनुबंध है जो विकल्प खरीदार को उस परिसंपत्ति को किसी विशिष्ट मूल्य (जिसे स्ट्राइक मूल्य के रूप में जाना जाता है) पर या समाप्ति की एक विशिष्ट तिथि से पहले खरीदने के लिए, अधिकार देता है, लेकिन दायित्व नहीं। शेयर बाजार के संदर्भ में, कॉल विकल्प बेचने की प्रक्रिया अक्सर 100 शेयरों के लॉट में होती है।

कॉल विकल्प बेचना

अब जब हमने कॉल विकल्पों के विषय की समीक्षा कर ली है, तो आइए हम कॉल विकल्पों को बेचने के कौशल को विकसित करते हैं। ध्यान देने के लिए पहला बिंदु यह है कि जब कॉल विकल्प के खरीदार के पास संपत्ति खरीदने का दायित्व नहीं होता है, तो कॉल विकल्प के विक्रेता के पास खरीदार अपने अधिकार का प्रयोग करने पर इसे बेचने का दायित्व होता है। खरीदार द्वारा इस अधिकार का उपयोग समाप्ति तिथि से पहले किसी भी समय और निर्दिष्ट स्ट्राइक मूल्य पर किया जा सकता है।

विकल्प के लिए विक्रेता को जो मूल्य प्राप्त होता है वह इस बात पर आधारित होता है कि विकल्प खरीदार के लिए विकल्प की समाप्ति से पहले खरीदने के अपने अधिकार का उपयोग करके लाभ कमाना कितना संभव है। यह इससे निर्धारित किया जाता है कि स्ट्राइक मूल्य विकल्प खरीदे जाने के समय अंतर्निहित संपत्ति की कीमत और विकल्प की समाप्ति तक शेष समय की राशि के कितना करीब है।

एक विकल्प विक्रेता के लिए, कॉल रणनीति बेचने की कुंजी यह आशा करना है कि परिसंपत्ति की कीमत घट जाती है और समाप्ति तिथि से पहले विकल्प बेकार हो जाता है। इससे उसे विकल्प, या प्रीमियम बेचने के लिए लाभ के रूप में प्राप्त धन रखने की अनुमति मिलती है।इसका मतलब यह है कि कॉल बेचते समय आपके पैसा उसी प्रकार गुना नहीं होता है जैसे कि कॉल खरीदने में होता है, यह आपको उन संभावित घटनाओं में भी लाभ प्रदान करता है जब कि संपत्ति की कीमत गिरती है या यहां तक कि फ्लैट रहती है। इसलिए, कॉल विकल्पों को बेचने के लिए आदर्श समय तब होता है जब किसी परिसंपत्ति के लिए आपका दृष्टिकोण यह हो कि यह समाप्ति तिथि से पहले मूल्य नहीं बढ़ेगा।

कॉल विकल्प बेचने के प्रकार

कॉल विकल्प रणनीतियां बेचने वाले अलग-अलग निवेशकों के लिए भिन्न हो सकती है, दो मुख्य तरीके हैं जिनमें एक निवेशक कॉल विकल्प बेच सकता है:

कवर कॉल: इस विक्रय कॉल रणनीति में, विक्रेता कॉल विकल्प की अंतर्निहित संपत्ति का मालिक होता है। कॉल बेचने की इस रणनीति को इसलिए कम जोखिम का माना जाता है क्योंकि विक्रेता ने पहले संपत्ति को उस कीमत पर खरीदा है जो स्ट्राइक मूल्य से कम है। इसलिए उन्होंने नुकसान के जोखिम के खिलाफ कवर किया है और अतिरिक्त आय के रूप में लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

नेकेड कॉल: कवर कॉल के विपरीत, विक्रेता कॉल विकल्पों की अंतर्निहित संपत्ति का मालिक नहीं है। नतीजतन, इस बिक्री कॉल रणनीति को काफी उच्च जोखिम का माना जाता है क्योंकि विक्रेता संपत्ति के स्वामित्व के माध्यम से संभावित नुकसान से सुरक्षित नहीं है।

जबकि ये दो प्रकार की बिक्री कॉल रणनीतियां जोखिम के मामले में भिन्न हो सकती है, ये दोनों अपनी अच्छाइयों और बुराइयों के साथ आती हैं। उदाहरण के लिए, नेकेड कॉल के साथ बिक्री कॉल रणनीति अक्सर कम अग्रिम लागत के साथ आती है क्योंकि संबंधित जोखिम अधिक होते हैं। दूसरी ओर, कवर्ड कॉल के साथ कॉल विकल्प बेचने से यह सुनिश्चित होता है कि विक्रेता एक सुरक्षित स्थिति में है, भले ही संपत्ति के मूल्य संचलन की दिशा कोई भी हो।

निष्कर्ष

कॉल विकल्प बेचना एक विकल्प कारोबारी होने का एक अनिवार्य हिस्सा हो सकता है, यही कारण है कि समय के साथ अपनी खुद की बिक्री कॉल विकल्प रणनीति विकसित करना महत्वपूर्ण है। इसके अलावा, जब कॉल विकल्पों को बेचने की बात आती है तो समय बहुत कुछ होता है, जिसका अर्थ है कि कॉल विकल्पों को बेचने के बारे में जानना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि इसके बारे में जानना कि कौन से कॉल विकल्प बेचने है। सबसे अधिक, कॉल विकल्पों को बेचने की चुनौती लेने से पहले सावधानी बरतें और अपने हिस्से का बाजार अनुसंधान सुनिश्चित करें।