आज हम बात करेंगे कि भारत में ट्रेडिंग के लिए अच्छे ब्रोकर का चुनाव कैसे करें। 

इन दिनों फुल-सर्विस स्टॉक ब्रोकर्स, डिस्काउंट स्टॉक ब्रोकर्स से लेकर बैंक आधारित स्टॉक ब्रोकर्स तक इतने सारे विकल्प उपलब्ध होने से, और हर व्यक्ति के दावा करने से कि वे मार्किट में स्टॉक ट्रेडिंग के लिए अच्छे ब्रोकर हैं, ट्रेडिंग के लिए अच्छा ब्रोकर चुनना अत्यधिक कठिन और अति दुखदायी हो सकता है, विशेषरूप से अगर आप मार्किट में पहली बार प्रवेश करना चाह रहे हों। कुछ प्रमुख क्षेत्र हैं जिन्हें आपको वरीयता के आधार पर स्टॉक ट्रेडिंग के लिए अच्छे ऑनलाइन ब्रोकर्स पर अंततः सीमित होना चाहिए जो आपके अनुकूल हों और आप अंत में अपने लिए अपना स्टॉक ब्रोकर चुन सकते हैं। 

ट्रेडिंग के लिए अच्छा ब्रोकर चुनने से पहले, यह महत्वपूर्ण है कि आप स्वयं को इन तीन प्रश्नों से परिचित करें।

क्या आप शुरुआत से सीखने के लिए तैयार हैं? 

ट्रेडिंग एक ऐसी चीज है जिसमें समय लगेगा। इसके लिए आवश्यक शिक्षा जादू नहीं है। मूल और मूलतत्व बातों को समझने और फिर दुनिया को मुट्ठी में करने में आपको महीनों लगेंगे। और हाँ आप निश्चित रूप से यह कर सकते हैं कि यदि आप मूल और मूलतत्व बातों को सीखने और अग्रिम रणनीतियों के लिए आगे बढ़ने के लिए समय दे रहे हैं और प्रयास कर रहे हैं। 

क्या आप एक ट्रेडर या निवेशक हैं? 

मार्किट में अपने सफ़र को निर्धारित करने में भिन्नता को समझना महत्वपूर्ण है। एक ट्रेडर वह होता है जो अल्पकालिक लाभ प्रणाली पर काम करता है। वह प्रतिदिन मार्किट में प्रवेश करता है, कुछ लाभ पाता है, ट्रेड करता है और चला जाता है। दूसरी ओर निवेशक लंबी अवधि के लिए होते हैं। वे कुछ स्टॉक खरीदते हैं और उसके बारे में भूल जाते हैं। कुछ साल लाइन में लगने के बाद वे अपना मुनाफा वापस प्राप्त करने के लिए लौट आते हैं। आपको पता होना चाहिए कि आप किस क्लास सिग्मेंट से संबंधित हैं और कौन सा आपकी आवश्यकताओं के अनुरूप है। 

क्या आप स्वयं ट्रेड करेंगे? 

क्या आप पारंपरिक पद्धति का उपयोग करके ट्रेडों को करने जा रहे हैं जो कॉल करके और कॉल-एंड-ट्रेड सुविधा का उपयोग करके अपने स्टॉक ब्रोकर पर विश्वास करना है, या क्या आप स्टॉक ब्रोकर द्वारा दिए गए डिवाइस और मोबाइल एप्लिकेशन पर ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का उपयोग करके स्वयं ट्रेडिंग करने जा रहे हैं? यदि आप पारंपरिक पद्धति को चुनते हैं, तो स्टॉक ट्रेडिंग के लिए अच्छे ब्रोकर न्यूनतम विलंबता सुनिश्चित करते हैं जिससे ट्रेड ऑर्डर उसी समय रखा जाए जब आप स्टॉक ब्रोकर को कॉल करते हैं।  

हर स्टॉकब्रोकर से जुड़ी अलग-अलग चीजें हैं और आपकी आवश्यकताओं के आधार पर हम आपको मार्किट में अपना सफ़र शुरू करने के लिए सही को चुनने के लिए फ़िल्टर करेंगे। हम वहां हर प्राथमिकता को प्रकट करेंगे जो व्यक्ति सामान्यत: पूछते हैं और अंत में आपको स्टॉक ट्रेडिंग के लिए अच्छे ऑनलाइन ब्रोकर्स को चुनने और निश्चित करने में मदद करेंगे। 

  1. ब्रोकरेज और अन्य शुल्क

आपको यह देखना होगा कि ब्रोकरेज शुल्क आपके मार्किट में प्रवेश करने के लिए बहुत अधिक है या नहीं। ऐसे स्टॉक ब्रोकर्स हैं जो खाता खोलने और अनुरक्षण शुल्क के लिए आपसे 1,500 रुपये तक वसूलते हैं। 

पुन:, कुछ स्टॉकब्रोकर हैं जो इन दिनों मुफ्त में खाते खोल रहे हैं। ऐसे लोग हैं जो ट्रेड मूल्यों का प्रतिशत शुल्क में लेते हैं जिन्हें सामान्यत: फुल-सर्विस ट्रेड ब्रोकर्स के रूप में उल्लेखित किया जाता है। और ऐसे लोग हैं जो एक फ्लैट फिक्स्ड रेट का शुल्क लेते हैं जो स्पष्ट रूप से बहुत शुरुआत में वर्णित किया गया था, जो कि ट्रेड मूल्य के निरपेक्ष लगाया जाता है। इन स्टॉक ब्रोकर्स को डिस्काउंट स्टॉक ब्रोकर्स कहा जाता है। 

स्टॉक ट्रेडिंग के लिए अच्छा ऑनलाइन ब्रोकर  यह सुनिश्चित करते हैं कि कोई छिपे हुए शुल्क नहीं हैं और यह कि प्रत्येक शुल्क स्पष्ट रूप से ईमेल सूचनाओं के माध्यम से पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है

  1. ट्रेडिंग प्लेटफार्म

यह विशेष रूप से ध्यान देने के लिए एक महत्वपूर्ण हिस्सा है यदि आप स्वयं ट्रेडिंग करने जा रहे हैं। यह इस तथ्य के कारण महत्वपूर्ण है कि प्रत्येक स्टॉक ब्रोकर किसी न किसी प्रकार का ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म प्रदान करता है, लेकिन उनमें से बहुत से वास्तव में पहली जगह में उपयोग करने योग्य नहीं हैं।  

अच्छे ऑनलाइन ट्रेडिंग ब्रोकर वास्तव में अपने स्टॉकब्रोकिंग प्लेटफॉर्म की गुणवत्ता में सुधार करने पर काम कर रहे हैं। ये प्लेटफार्म उपयोगकर्ता अनुभव, गति और प्रदर्शन, ऑर्डर देने की विलंबता के संदर्भ में लगातार सुधार कर रहे हैं।

  1. आरंभिक जमा राशि

यह बहुत बड़ी चिंता का विषय नहीं है क्योंकि आप इसे हमेशा वापस पा सकते हैं। एकमात्र चिंता यह है कि डिलीवरी के समय ब्रोकरेज प्रतिशत में कटौती की जाएगी। आरंभिक जमा राशि जितनी कम होगी, पैसा देने के लिए उतने ही अधिक ब्रोकरेज शुल्क की आवश्यकता होगी। 10,000 रुपये की आरंभिक जमा राशि से प्रति ट्रेड 0.45% का ब्रोकरेज हो सकता है।1,00,000 रुपये की आरंभिक जमा राशि में 0.15% का ब्रोकरेज हो सकता है।  

4.अनुसंधान टीम विशेषज्ञता

सामान्यत: केवल फुल-सर्विस स्टॉक से ब्रोकर्स जुड़े होते हैं। सबसे प्रमुख शोध टीम के साथ एक फुल-सर्विस स्टॉक ब्रोकर्स पर निर्णय लेने का कार्य, स्वयं में एक चुनौतीपूर्ण कार्य, अनुसंधान टीम की विश्वसनीयता को ध्यान में रख कर आसान बनाया जा सकता है यदि वे समाचार चैनलों पर दिखाई दे रहे हैं, उनके प्रकाशन समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में हैं । एक दृश्यमान अनुसंधान टीम सामान्यत:  एक अच्छे ऑनलाइन ट्रेडिंग ब्रोकर का संकेत होती है। 

  1. फंड ट्रांसफर प्रक्रिया

विचार करने के लिए एक महत्वपूर्ण कारक तो नहीं है, लेकिन रोज़मर्रा के ट्रेडर के लिए एक बहुत ही कठिन काम है, विशेष रूप से जब आप मार्किट में प्रवेश कर रहे हैं। क्या होता है कि जब भी आपके पास फंड की कमी होती है, तो आपको अपने बैंक खाते से अपने ट्रेडिंग खाते में धनराशि ट्रान्सफर करने की आवश्यकता होती है। यह प्रक्रिया बैंक स्टॉक ब्रोकर्स द्वारा सरल की जाती है। प्रमुख बैंक आपको 3-इन -1 डीमैट खाते की सुविधा प्रदान करते हैं जहां आपका बैंक खाता सीधे आपके ट्रेडिंग खाते से जुड़ा होता है और यह फंड ट्रांसफर प्रक्रिया आपकी व्यापार आवश्यकताओं के अनुसार स्वचालित हो सकती है।  

  1. ग्राहक सर्विस

यह सर्विस अधिक संबद्ध फुल-सर्विस स्टॉक ब्रोकर्स है और यह कारकों पर निर्भर करता है जैसे सर्विस द्वारा लिया जाने वाला परिवर्तन काल, ग्राहक सर्विस के चैनल जैसे चैटबॉट, ग्राहक सेवा कर्मियों की उपलब्धता, कई भाषाओं में समर्थन, संरचित वृद्धि प्रक्रिया आदि।

  1. ऑफ़लाइन उपस्थिति

केवल फुल-सर्विस स्टॉक ब्रोकर्स से जुड़े होते हैं। फुल-सर्विस सेगमेंट में अच्छे ऑनलाइन ट्रेडिंग ब्रोकर्स उप-ब्रोकर मताधिकार नेटवर्क के साथ स्पर्श्यता की भावना उत्पन्न करके एक ऑफ़लाइन उपस्थिति स्थापित करते हैं और अपने स्थानीय उप-ब्रोकर्स के साथ संपर्क में रहने और मार्किट के साथ अद्यतन रहने की सुविधा ग्राहकों को प्रदान करके विश्वास कारक स्थापित करते हैं। 

  1. ब्रांड प्रसिद्धि

स्टॉक ब्रोकिंग भारत में एक विनियमित मार्किट है और सेबी ने हर साल बहुत सारे नियंत्रण किए हैं जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि आसपास कोई घोटाला नहीं हो रहा है। यद्दपि, ये चीजें स्टॉक ट्रेडिंग के लिए कुछ अच्छे ब्रोकरों में भी होती हैं।

यह पता लगाने के लिए आपना शोध कीजिए कि क्या आपके स्टॉक ब्रोकर के पास एक स्पष्ट छाप है या घोटालों का पिछला इतिहास है। सुनिश्चित कीजिए कि आपका चुना हुआ स्टॉक ब्रोकर सेबी द्वारा पंजीकृत है।

निष्कर्ष

हम आशा करते हैं कि यह गाइड आपके पसंद के स्टॉकब्रोकर पर निर्णय लेने के लिए आपके लिए उपयोगी था।