इलेक्ट्रॉनिक संचार नेटवर्क (ई.सी.एन) क्या है?

एक कम्प्यूटरीकृत प्रणाली जो स्वचालित रूप से खरीदारों को विक्रेताओं से  सार्वजनिक रूप से कारोबारी  बाजारों पर समान प्रतिभूतियों के उन के आर्डरों द्वारा  जोड़ता है, उसे ई सी एन या ‘इलेक्ट्रॉनिक संचार नेटवर्क’ कहा जाता है । प्रमुख दलाल मंडियां/ ब्रोकरेज अलग-अलग व्यापारियों के साथ जुड़े हुए हैं ताकि दोनों बिचौलियों के  बिना सीधा आपस में व्यापार कर सकें । चाहे निवेशक दुनिया के विपरीत छोर पर हों, इलेक्ट्रॉनिक संचार नेटवर्क अलग-अलग स्थानों से व्यापार करना असंभव बनाता है । ई.सी.एन व्यापार को त्वरित और आसान बनाता है. शीघ्रता  और आसानी से एक दूसरे के साथ व्यापार करें।

ई.सी.एन कैसे काम करता है ?

अब जब ‘ई.सी.एन क्या है’ का सवाल संबोधित किया गया है, तो समझें कि यह कैसे काम करता है । व्यापारी ई.सी.एन के माध्यम से जुड़ते हैं,  जिसका अर्थ है कि जो लोग एक ही स्टॉक खरीद और बेच रहे हैं, उनका स्वचालित तौर से इस पोर्टल के माध्यम से मिलान किया जाता है । एक ई.सी.एन किसी भी कंप्यूटर से चलने वाली  प्रणाली है जो कई बाजार सहभागियों से  सबसे अच्छी कीमत और बोली कोटेशन प्रदर्शित करता है । ई.सी.एन स्वचालित रूप से व्यापारियों का मिलान करवाता है — एक बोली से पूछता है – और इस प्रकार ऑर्डर निष्पादित करता है । प्रमुख शेयर बाजारों, विदेशी मुद्राव्यापार, या कारोबार समयोत्तर आर्डरों पर ECN का प्रयोग किया जाताहै ।

ई.सी.एन प्रत्येक लेनदेन के लिए शुल्क लेकर पैसा कमाता है ताकि लोग अपने वित्तीय दायित्वों को पूरा कर सकें । ई.सी.एन का लक्ष्य किसी भी तीसरे पक्ष को खत्म करना है । तीसरे पक्ष जैसे दलाल  आर्डरों का सामान्य रूप से निष्पादन करते हैं एक ई.सी.एन की भूमिका निभा कर और  व्यापारी का व्यापारी से मिलान कर के।

इस भूमिका का तकनीकी नाम सार्वजनिक शेयर बाजारों या बिना तैयारी वाले ट्रेडों पर बाजार निर्माता के रूप में जाना जाता है । बाज़ार निर्माता एक जैसे  व्यापारियों का एक साथ मिलान करते हैं  ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि किसी के ऑर्डर का आंशिक रूप से या पूरी तरह से निष्पादन हो. एक ई.सी.एन के माध्यम से  स्थापित कोई भी और सभी आर्डर  आमतौर पर सीमित होते हैं । यह आंशिक रूप से उपयोगी होता है जब कोई कारोबारी समयके बाद सुरक्षित रूप से व्यापार करना चाहता है । चूंकि स्टॉक की कीमतें इतनी अस्थिर होतें हैं, ई.सी.एन द्वारा पेशकश की जानेवालीकारोबारी समय के बाद का व्यापार, किसी के भी स्टॉक स्थिति में सुरक्षा की एक परत जोड़ती है।

एक ई.सी.एन किसके लिए है ?

इसलिए, एक इलेक्ट्रॉनिक संचार नेटवर्क का उपयोग करके, व्यापारियों पारंपरिक व्यापार घंटों के बाहर व्यापार करते हैं । ई.सी.एन उन लोगों के लिए एक तंत्र प्रदान करता है जो सामान्य बाजार घंटों के दौरान सक्रिय रूप से शामिल नहीं हो पाते हैं । इसके अतिरिक्त, ये उनलोगों द्वारा भी अच्छी तरह से पसंद किया जाता है जो अपने व्यापारिक समय सीमा में लचीलापन चाहते हैं । ई.सी.एन व्यापक फैलाव को होने से रोकता है जो पारंपरिक दलालों के साथ आमतौर पर होता है , समग्र कम शुल्क और कमीशन के साथ। जो लोग अपनी गोपनीयता के बारे में चिंतित हैं, उनके लिए ई.सी.एन उनके व्यापारों में गोपनीयता के रूप में सुरक्षा की एक परत भी प्रदान करता है। निवेशक जो बड़े लेनदेन करते समय गुमनामी की इच्छा रखते हैं ई.सी.एन का उपयोग कर सकते हैं।

ई.सी.एन का उपयोग करके व्यापार कैसे करें ?

यदि आप एक ई.सी.एन का उपयोग करके व्यापार करना चाहते हैं, तो आपका बस एक खाता होना चाहिए या आपको एक ब्रोकर का ग्राहक होना चाहिए जो अपने ग्राहकों तक सीधे पहुंच कर व्यापार प्रदान करता है । कस्टम कंप्यूटर टर्मिनल या नेटवर्क प्रोटोकॉल का उपयोग करके, कोई भी ग्राहक प्रासंगिक ई.सी.एन में ऑर्डर दर्ज कर सकता है। इलेक्ट्रॉनिक संचार नेटवर्क तब एक बेचने के आदेश का उसके विपरीत पक्ष के खरीद-आदेश के साथ मिलान कराएगा। ग्राहकों द्वारा देखे जाने के लिए बेजोड़ आदेश भी प्रकाशित किए जाएंगे। ई.सी.एन के लिए क्रेता-व्यापारी का नामगुमनाम रखकर ऑर्डर निष्पादित करना आम बात है। हालांकि, किसी के सभी लेन-देन को व्यापार निष्पादन रिपोर्ट पर चार्ट किया जाता है जिसमें ई.सी.एन तृतीय पक्ष के रूप में सूचीबद्ध ई.सी.एनकिया जाता है।

ई.सी.एन का उपयोग करने के लाभ

ई.सी.एन का उपयोग करने का स्पष्ट लाभ दुनिया भर में तेज, परेशानी मुक्त व्यापार है। व्यापारियों को अपने व्यापारों में लचीलापन भी मिलता है क्योंकि वे ई.सी.एन का उपयोग कर के घंटों के बाद अपनी कारोबारी चालें चल सकते हैं। अंत में, वो गुमनामी है जो ई.सी.एन का प्रयोग करने वाले दलालों और व्यक्तियों कोई.सी.एन मिलता है। ई.सी.एन अन्य लाभ हैं जो थोड़ा कम स्पष्ट हैं। उनमेंसे एक इस प्रकार है।

कुछ ई.सी.एन अपने ग्राहकों को अतिरिक्त सुविधाओं दे सकतीं हैं । इनमें ईएनसी दलालों को बातचीत करने के लिए पहुँच देना , पेगिंग, आरक्षित आकार, और अधिक सुविधाएं शामिल हैं। कुछ ई.सी.एन दलालों को एक संपूर्ण इलेक्ट्रॉनिक संचार नेटवर्क बुक तक पहुंच मिल सकती है जो उन्हें वास्तविक समय के बाजार आंकड़ों तक पहुंचाती हैं। व्यापारिक हितों की गहराई जैसे आंकड़ों के साथगणना की गई बाजार चाल बनाने की बात आती है तो दलालों का लाभ होता है।

निष्कर्ष

संक्षेपमें, ई.सी.एन कम्प्यूटरी कृत पोर्टल हैं जो एक निश्चित विनिमय या बाजार पर व्यापारियों के बीच विपरीत पक्ष ऑर्डर का मिलान करते हैं।वे व्यापार को कुशल बनाते हैं: अनिवार्य रूप से इसे तेज़ और अधिक लचीला बनाकर। ई.सी.एन का उपयोग करने का एकमात्र संभावित नकारात्मक पक्ष है लेनदेन करने के लिए कमीशन या शुल्क की आवश्यकता,होती है जो प्रत्येक दिन बहुत सारे व्यापार करने पर जुड़ जुड़ कर बढ़ सकती है ।