निवेशकों को उनकी निवेश रणनीति और लक्ष्यों का पालन करते हुए शेयर बाजार में नेविगेट करने में मदद करने के लिए कई प्रणालियों को पिछले कुछ वर्षों में विकसित किया गया हैं।। रडार सिग्नल ट्रेडिंग सिस्टम यह एक ऐसी विधि है जो विश्लेषण के माध्यम से उत्पन्न होती है जिसका प्रयोग खरीदने या बेचने के संकेत देने के लिए किया जाता है।

ये विश्लेषण तकनीकी संकेतकों का प्रयोग करते हुए बाजार गतिविधि या मैन्युअल विश्लेषण के आधार पर गणितीय एल्गोरिदम का परिणाम हो सकते हैं। खरीद या बिक्री के संकेत आम तौर पर पूर्व निर्धारित सेट किए हुए सूत्रों से निर्मित होता है। इसलिए, इस सिस्टम से एक व्यापारी को थोड़ी देर में कई शेयरों का विश्लेषण करने में मदद मिलती है।

रडार सिग्नल ट्रेडिंग सिस्टम क्या है?

रडार सिग्नल ट्रेडिंग सिस्टम अनिवार्य रूप से शेयर बाज़ार से आनेवाली अफ़वाहों को फ़िल्टर करता है। यह निवेशकों को जो लोग शेयरों के बारे में कुछ नहीं जानते और जो उसकी या निवेश की जरूरतों और लक्ष्यों के अनुकूल होते हैं उन्हें मदद करता है। ट्रिगर को खरीदने या बेचने के अलावा, ट्रेड/व्यापार संकेतों का उपयोग पोर्टफोलियों को संशोधित करने के लिए किया जाता है।

उदाहरण के लिए, यह बॉन्ड ट्रेडर को एक मैच्योरिटी को बेचकर और एक अलग मैच्योरिटी खरीदकर पोर्टफोलियो की अवधि को समायोजित करने के लिए कहा जा सकता है। यह परिसंपत्ति वर्ग जैसे स्टॉक या बॉन्ड या वस्तुओं के निवेश में बदलाव करने में मदद कर सकता है।

रडार सिग्नल ट्रेडिंग सिस्टम में अलग-अलग इनपुट हो सकते हैं। हालांकि इसका एक प्रमुख घटक तकनीकी विश्लेषण है, परंतु मौलिक विश्लेषण और मात्रात्मक विश्लेषण भी इसका एक हिस्सा है।

उदाहरण: यह सिस्टम निवेशकों के इनपुट के अनुसार स्वचालित रूप से एक संकेत जारी करता है। इस इनपुट को उतना ही सरल माना जा सकता है, जितना कि कोई बेचने के रूप में सरल हो सकता है, एक स्टॉक 52 सप्ताह की अवधि में या फिर तकनीकी निर्माण से बने पैटर्न के ब्रेक-आउट होने पर उसके लिए खरीद के लिए। किसी शेयरों में तेज़ी से उतार-चढ़ाव के दिनों के दौरान उच्च मात्रा दिखाता है, तो यह संकेत काम आ सकता है क्योंकि सुरक्षा के लिए उचित  कदम उठाने के लिए यह अग्रदूत साबित हो सकता है।

महत्व

रडार सिग्नल ट्रेडिंग सिस्टम निवेशकों को तुरन्त जानने के लिए आसान बनाता है कि कितने स्टॉक ने उच्च या निम्न स्तर पर शुरुआत की हैं। यह दर्शाता है कि कितने प्रतिभूतियों ने प्रतिरोध स्तर या समर्थन स्तर को तोड़ दिया है। इस तरह, उतार-चढ़ाव के दिनों में वॉल्यूम बदलने के लिए सिस्टम से आसानी से समझा जा सकता है। इस तरह ऐसे कई तकनीकी संकेतकों को ट्रैक करने के लिए एक व्यापक सिस्टम के बिना ट्रैक करना मुश्किल है।

सामान्य इनपुट

वॉल्यूम: समझा जाता है कि उच्च मात्रा में आयतन किसी स्टॉक में नयी गतिविधि के लिए अग्रदूत माना जाता है। इसका उपयोग सिस्टम के लिए इनपुट के रूप में किया जा सकता है। यह इन परिस्थितियों में विशेष रूप से उपयोगी होता है जब समग्र बाजार बहुत अस्थिर होता हैं और निवेशक सही निवेश करने या कटौती करने के लिए एक रास्ता खोजने के लिए प्रयास कर रहे होते हैं।

ब्याज दरें: एक निवेशक के लिए ब्याज दर सबसे महत्वपूर्ण संकेतों में से एक है। काफ़ी कुछ बाज़ार की उम्मीद, मुद्रास्फीति के स्तर और केंद्रीय बैंक के पास उपलब्ध नीतिगत स्थान पर भी निर्भर करता है। ब्याज दर में परिवर्तन से कुछ संवेदनशील शेयरों के दरों में ब्याज के लिए ट्रिगर (गति प्रदान) किया जा सकता है। 

मूल्यांकन: स्टॉक वैल्यूएशन भी स्टॉक के मूल्य को जानने के लिए एक महत्वपूर्ण तरीका है। उदाहरण के लिए, किसी विशेष क्षेत्र की तुलना में बहुत अधिक मूल्य-निर्धारण बिक्री का सही समय हो सकता है।

पैटर्न: व्यापारियों द्वारा सुरक्षा के तकनीकी विश्लेषण में कई संकेत को ट्रैक किए जाते हैं ताकि वे भविष्य की गतिविधि के आधार पर अपना अनुमान लगा सकें। यह खरीद या बिक्री निर्णय के लिए एक महत्वपूर्ण संकेत के रूप में कार्य कर सकता है। 

चलमान औसत : 50 या 200 डीएमए (दैनिक गतिशील  औसत) व्यापारियों द्वारा देखे जाने वाला एक और महत्वपूर्ण पैरामीटर है। एक निवेशक निवेश के लिए इनपुट दे सकता है जब डीएमए के ऊपर या नीचे किसी विशेष स्टॉक को पार करने का सुझाव देता है तो ।

मनोभाव/भावनाएं: यह एक लंबे समय से देखी जाने वाली प्रवृत्ति है कि अत्यधिक सकारात्मकता बाजार के शीर्ष का संकेत देती है और अत्यधिक मंदी नीचे का संकेत दे सकती है। इस तरह के संकेत निवेशकों को महत्वपूर्ण क्षेत्रों में निवेश के उपयुक्त निर्णय लेने में मदद कर सकते हैं।

रडार सिग्नल मेटाट्रेडर 4

MetaTrader 4 (mt4)(मेटाट्रेडर 4 (एमटी4)) प्लेटफॉर्म व्यापारियों के लिए एक अक्सर इस्तेमाल किया जाने वाल एक मंच है, जो जटिल निवेश रणनीतियों के निष्पादन की अनुमति देता है। यह प्लेटफॉर्म व्यापारियों को  वास्तविक समय का डेटा प्रदान करता है और एल्गोरिथम ट्रेडिंग प्रोग्राम निष्पादित करने में मदद करता है। रडार सिग्नल एमटी4 को परिपक्व निवेशकों के लिए सबसे कुशल ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म भी माना जाता है।

एक रडार सिग्नल एमटी4 कई संकेतकों तक उपयोगकर्ता की पहुंच प्रदान करता है और अपने स्वंय के संकेतक बनाने का विकल्प प्रदान करता है। यह सर्वाधिक प्रचलित ट्रेडिंग प्लेटफार्मों में से एक है और इसे दुनिया भर में खुदरा विदेशी मुद्रा व्यापारियों के लिए एक बेंचमार्क प्लेटफॉर्म माना जाता है।

निष्कर्ष:

दुनिया भर में व्यापारी अधिक से अधिक यांत्रिक विधियों का व्यापार के लिए चयन कर रहे हैं। हालांकि इसमें विचार यह है मानवीय त्रुटि को दूर किया जाए, परंतु इनमें से कई विधियां ऐसी है जो पूर्ण रूप से प्रमाणित नहीं हैं और उन्हें सावधानी बरतने की आवश्यकता है। रडार सिग्नल ट्रेडिंग सिस्टम निवेशकों को खरीदने या बेचने के संकेत देने के लिए तकनीकी विश्लेषण और मौलिक विश्लेषण का उपयोग करने में मदद करता है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि निवेशक के लिए बाजार की मूल प्रवृत्ति को समझना आसान बनाता है, जो कि बाजार में बड़ी संख्या में सूचीबद्ध प्रतिभूतियों में इस तरह के सिस्टम के बिना मुश्किल है।