प्रिया ने एक बार एक बारसुरक्षितफिक्स्ड डिपॉजिट के लिए स्पष्ट वरीयता दिखाई थी तब उन निवेशों के अधीन हो गई जो बाजार जोखिमों के अधीन हैं,  जब म्यूचुअल फंडों ने लोकप्रियता हासिल की जो कि एक आम बात हो गई। उनकी तरह, आज जनसांख्यिकी भर में, भारतीय निवेशक ट्रेड करने में कम संकोची होते हैं क्योंकि काफ़ी लोगों ने अच्छे रिटर्न का अनुभव किया है। शुरूआत करने के लिए विदेशी मुद्रा ट्रेड एक अच्छा स्थान है।

करेंसी ट्रेडिंग क्या होती है?

करेंसी ट्रेडिंग या विदेशी मुद्रा ट्रेडिंग करेंसी को जोडें में खरीदना या बेचना होता है। उदाहरण के लिए, आज अमेरिकी डॉलर की कीमत 70.85 रूपए हैयदि आप रूपए के विरूद्ध डॉलर की कीमत बढ़ने का उम्मीद करते हैं तो आप अधिक डॉलर खरीद लेते हैं। इसके विपरीत, यदि आप रुपए के खिलाफ डॉलर की कीमत कम होने की उम्मीद करते हैं, तो आप रुपए खरीद लेगें। आपको हमेशा मुद्राओं की एक जोड़ी चुननी होगी, उदाहरण के लिए रूपए/डॉलर।

यह कैसे काम करता है?

  • चरण 1: एक ट्रेडिंग खाता खोलें। आप एंजल ब्रोकिंग वेबसाइट पर एक ऑनलाइन करेंसी ट्रेडिंग अकांउट से बिल्कुल मुफ्त में शुरूआत कर सकते हैं और तुरंत ही ट्रेडिंग करना शुरू कर सकते हैं।
  • चरण 2: अपना शोध करें। यह जानना महत्वपूर्ण है कि क्या खरीदना या क्या बेचना है और कब खरीदना या कब बेचना है। प्रवृत्तियों को उत्सुकतापूर्वक देखें। परिश्रम ही खेल का नाम है। अगर भारतीय रुपया अमेरिकी डॉलर के खिलाफ गिर रहा है, तो भविष्य के अनुमानों के आधार पर रुपये खरीदने और डॉलर बेचने का अच्छा समय हो सकता है।
  • चरण 3: एक टेस्ट ड्राइव लें। क्रिकेट ट्रेस्ट मेचों में बिना कुछ पाने की इच्छा से निवेश होता है।  लोग कार खरीदने से पहले उसे टेस्ट करते हैं और यहाँ तक कि गद्दों को भी उन्हें खरीदने से पहले।  यहाँ विदेशी मुद्रा का खेल खेलने से पहले अपने कौशल का परीक्षण करना आवश्यक है। अपना विदेशी मुद्रा ट्रेडिंग अकाउंट खोलने से पहले एंजल ब्रोकिंग पर उपलब्ध ट्रायल ट्रेडिंग खाते को इस्तेमाल करने का प्रयास करें। आभासी पैसे के साथ अपनी गलतियाँ करें और लाइव होने से पहले सिस्टम और टिकर चिन्हों पर अपना रास्ता ढुंढें। 
  • चरण 4: एक मामूली प्रारंभिक खरीद या प्रारंभिक निवेश से शुरू करें। यदि आप अपनी टेस्ट ड्राइव में सफल हो चुकें हैं, तो आप शायद बहुत आशावादी हैं और अपने ऑनलाइन करेंसी ट्रेडिंग खाते का मार्ग निर्देशित करने के साथ एक बड़े धमाके से शुरूआत करना चाहते हैं। हालांकि इसमें एक छोटी राशि के तौर पर शुरूआत करना सबसे बेहतर है। वह व्यक्ति जिसने विदेशी मुद्रा में काफ़ी अच्छे वर्षो तक कार्य किया है वही आपको बता सकता है कि इसकी गिरावट की आवेग और गणना को समझने के लिए अभ्यास करना होता है। अर्थात् अपेक्षित दर बनाम निष्पादन की वास्तविक दरें। इसके अलावा, आप किसी भी राशि से मुनाफा कमा सकते हैं।
  • चरण 5: अपने ब्रोकर के साथ मिलकर एक स्टॉप-लॉस या लिमिट ऑडर सेट करें। यदि आपके नुकसान निर्धारित राशि क पार कर जाता हैं, तो आपके विदेशी मुद्रा ट्रेडिंग खाते की सारी पोजिशन तुंरत ही बंद हो जाएगी। यानी उस दिन आगे कोई और ट्रेड नहीं होगा। आप इसे नि:शुल्क सेट करके अपने नुकसान को सीमित कर सकते हैं।

एक ब्रोकर को कैसे चुनें?

अपने पैसे को एक ब्रोकर के साथ डालें जिसका कि अच्छा ट्रेक रिकार्ड और जिसके पास एक अच्छा अनुभव हो। स्टार्ट-अप से शायद एक रोमांचक और सशक्त कार्य का वातावरण बनता हो लेकिन इससे आपके मेहनत से कमाएं हुए धन के साथ सुरक्षित खेला जाता है। जब आप एक एंजल ब्रोकिंग मुद्रा ट्रेडिंग खाता खोलते हैं तो आपको 1987 की पूर्व-तिथि से करीब तीन दशकों से अधिक अनुभव का फायदा होता है।

देखें:

– एक खाता खोलने के लिए शून्य चार्ज

– ऑनलाइन मुद्रा ट्रेडिंग खाता

– 30  वर्षो का ब्रोकरेज ट्रैक रिकॉर्ड

– ट्रायल ट्रेडिंग खाते की उपलब्धता

करेंसी ट्रेडिंग के क्या लाभ हैं?

–  करेंसी ट्रेडिंग की लेन देन लागत अपेक्षाकृत कम है और यहां तक कि नौसिखिया के लिए ट्रेडिंग स्थल वहन करने योग्य है।

– यहाँ कोई बिचौलिया नहीं हैं। आपका मुनाफ़ा आपका ही है। हालांकि, आपको अपनी कमाई पर करों का भुगतान करना आवश्यक है।

– विदेशी मुद्रा ट्रेडिंग में इनसाइडर ट्रेडिंग के कारण नुकसान उठाने का जोखिम मौजूद नहीं है।

–  करेंसी ट्रेडिंग तात्कालिक होती है —आपको निष्पादन और ट्रेड के निपटान के लिए प्रतीक्षा नहीं करनी पड़ती है

क्या यह सुरक्षित है?  मैं अपने जोखिम को कैसे कम कर सकता हूँ? करेंसी ट्रेडिंग बाजार जोखिम के अधीन है,  लेकिन आप जोखिम के साथ अपने जोखिम को कम कर सकते हैं:

– एक विश्वसनीय ब्रोकर

– एक ठीक स्टॉप-लॉस

– अनुसंधान के संचालन में कर्मठता 

– ईमानदारी से जोखिम प्रबंधन (जिसका अर्थ है कि अपनी भावनाओं को रोककर शो को आगे बढ़ाना) 

निष्कर्ष:

यदि आपकी बाजार के रुझानों और परिवर्तनों को देखने की आदत है या यदि आप आरओआई को बढ़ाने के लिए एक जल्द और आकर्षक तरीके की तलाश कर रहे हैं या वैकल्पिक रूप से यदि अपनी ट्रेडिंग में एक सुरक्षित, आसानी से मार्गदर्शित प्रवेश बिंदु की तलाश कर रहे हैं, तो करेंसी ट्रेडिंग का प्रयास करना एक बेहतरीन विकल्प है।