शेयर बाजार में एक निवेशक के रूप में, आप जानते हैं कि जब किसी कंपनी का शेयर मूल्य बढ़ जाता है, तो यह निवेश करने का एक बढ़िया अवसर होता है। लेकिन एक कंपनी की शेयर मूल्य को कौन निर्धारित करता है? मूल्यांकन कैसे किया जाता है? और, विश्लेषकों को उचित  कीमत का अनुमान कैसे लगता है?

शेयरों का मूल्य कंपनी के वित्तीय स्थिति पर निर्भर करता है। विश्लेषक,  कंपनी के वित्तीय स्थिति पर अपने विश्लेषण का आधार,  कंपनी की वित्तीय स्थिरता का निर्धारण और    भावी विकास का अनुमान लगातेहै। इस विश्लेषण के आधार पर, एक कंपनी का शेयर मूल्य घटता या बढ़ता है।

वित्तीय विश्लेषण एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और कंपनी के बैलेंस शीट के विभिन्न डेटा का मूल्यांकन करने में विशेषज्ञता की आवश्यकता है। वित्तीय विवरणों का विश्लेषण करने के लिए उपयोग की जाने वाली कई तकनीकों में, अनुपात विश्लेषण एक तकनीक है। इससे वृद्धि दर और कमियों को समझने के लिए कंपनी की वित्तीय स्थिति के विभिन्न कारकों के बीच तुलना करके प्रबंधन एवं विश्लेषण किया जाता है । व्यापारी और निवेशक भी किसी कंपनी में निवेश के अवसरों का मूल्यांकन करने या संभावित खतरे को जानने के लिए अनुपात विश्लेषण का उपयोग करते हैं। अनुपात विश्लेषण को समझना आपको विभिन्न पहलुओं से कंपनी के प्रदर्शन का आकलन करने में मदद करेगा और आप सही स्टॉक का चयन कर सकेंगे।

अनुपात विश्लेषण को समझना

आइए हमारी चर्चा, अनुपात विश्लेषण क्या है, से शुरू करते हैं? तुलनात्मक अध्ययन करने के लिए दो  कंपनियों की बैलेंस शीट के विभिन्न घटकों का आपसे में विश्लेषण करने की प्रक्रिया होती है। यह वित्तीय विशेषज्ञों द्वारा व्यापक रूप से उपयोग की जाने वाली विधि है, जिसका उपयोग कंपनी की तरलता, परिचालन दक्षता और लाभप्रदता को गहनता से जानने के लिए किया जाता है।

 मुख्य बिंदु

–  यह कंपनी के वित्तीय विवरण के जरूरीडेटा की तुलना करने की प्रक्रिया है

– विश्लेषक कंपनी की लाभप्रदता, तरलता, शोधन क्षमता, और परिचालन दक्षता को गहनता से जानने  के लिए अनुपात विश्लेषण लागू करते हैं

– अनुपात विश्लेषण से  समयानुसार कंपनी प्रदर्शन के बारे में और यहां तक कि एक ही स्तर परकिसी अन्य कंपनी से तुलना में  समयानुसार कंपनी प्रदर्शन के बारे में पता चलता है

– अनुपात विश्लेषण उपयोगी जानकारी प्रदान करता है, लेकिन इसे व्यापक तौर परजानने के लिए अन्य कंपनी के प्रदर्शन स्थिति के साथ जोड़ा जाना चाहिए

अनुपात विश्लेषण किस लिए उपयोग किया जाता है?

जैसा कि ऊपर बताया गया है, अनुपात विश्लेषण कंपनी के वित्तीय प्रदर्शन का मूल्यांकन करने में महत्वपूर्ण है। प्रबंधन  इसका  उपयोग निम्नलिखित के लिए करता है,

तुलना: अनुपात विश्लेषण का उपयोग करके कंपनी अपने प्रदर्शन को समझने के लिए विभिन्न वित्तीय पहलुओं पर अपने प्रतिस्पर्धियों से अपने प्रदर्शन की तुलना कर सकती है। मूल्य निर्धारण या आय के संबंध में प्रतियोगियों से वित्तीय अनुपात प्राप्त करने से प्रबंधन बाजार और प्रदर्शन अंतराल की पहचान करने और सुधार के लिए निर्णय लेने में मदद मिलती है।

ट्रेंड लाइन विश्लेषण: विशेषज्ञ समय के साथ कंपनी के प्रदर्शन में किसी भी ट्रेंड को निर्धारित करने के लिए अनुपात विश्लेषण का उपयोग करते हैं। ट्रेंड विश्लेषण का उपयोग किसी कंपनी की प्रगति और उसमें संभावित कमियां के अनुमान लगाने  के लिए किया जाता है।

परिचालन क्षमता: अनुपात विश्लेषण परिसंपत्तियों और देनदारियों के प्रबंधन में दक्षता स्तर निर्धारित करने में मदद करता है, असामान्य खर्चों पर और संसाधनों के अधिकतम या इष्टतम उपयोग प्रकाश डालता है।

अनुपात विश्लेषण के प्रकार

विश्लेषणात्मक उद्देश्यों के लिए, वित्तीय विश्लेषक वित्तीय विवरण के भीतर विभिन्न घटकों के बीच तुलना करने के लिए विभिन्न अनुपात विश्लेषण की गणना करते हैं।

तरलता अनुपात: कम्प्यूटिंग तरलता अनुपात एक कंपनी की शोधन क्षमता और वित्तीय ताकत निर्धारित करने के लिए महत्वपूर्ण है। यह कंपनी की अपनी वर्तमान संपत्ति के साथ अपने ऋण का भुगतान करने की क्षमता पर विचार करता है। बकाया देय होने पर, ऋण शर्तों को पूरा करने के लिए, कंपनी की क्षमता निर्धारित करने के लिए लेनदारों, बैंकों और निवेशकों इसका उपयोग करते है ।

आमतौर पर, तरलता अनुपात में त्वरित अनुपात, नकद अनुपात, और वर्तमान अनुपात की गणना की जाती हैं।

शोधन क्षमता अनुपात: यह लंबे समय में कंपनी की वित्तीय व्यवहार्यता निर्धारित करने के लिए गणना की जाती है। सामान्य शोधन क्षमता अनुपात ऋण-से-पूंजी अनुपात, ब्याज कवरेज अनुपात, और इक्विटी गुणक की गणना करता हैं। शोधन क्षमता अनुपात का उपयोग किसी संगठन की वित्तीय स्थिति को निर्धारित करने के लिए क्रेडिट एजेंसियों, सरकार, बैंकों और संस्थागत निवेशकों द्वारा किया जाता है।

लाभप्रदता अनुपात: लाभप्रदता अनुपात को विकास और लाभ कमाने की क्षमता निर्धारित करने के लिए मापा जाता है। यह अपने व्यय पर कंपनी की कमाई का अनुमान है। इसके अलावा, इसका उपयोग प्रगति को मापने के लिए साल-दर-साल विकास की तुलना करने के लिए किया जाता है।

प्रबंधन भी अन्य प्रतियोगियों से लाभप्रदता की तुलना करने के लिए लाभप्रदता अनुपात विश्लेषण का उपयोग करता हैI

दक्षता अनुपात: यह बिक्री उत्पन्न करने और लाभ कमाने के लिए संपत्ति और देनदारियों के प्रबंधन में दक्षता का अनुमान लगाता है। प्रबंधन दक्षता की गणना करने के लिए परिसंपत्ति कारोबार अनुपात, सूची कारोबार, देय कारोबार, और अन्य का उपयोग करता है।

बाजार संभावना अनुपात: संभावना अनुपात निवेशकों को एक निवेश की भावी लाभप्रदता निर्धारित करने में मदद करता है। वे शेयरों और लाभांश पर वर्तमान कमाई का उपयोग यह निर्धारित करने के लिए करते हैं कि भविष्य में उनका कितना निवेश प्राप्त होगा।

ये विकास और स्थिरता और अंत में, निवेश की संभावनाओं को मापने के लिए विभिन्न चरणों में इस्तेमाल वित्तीय अनुपात विश्लेषण की व्यापक श्रेणियों में से कुछ हैI  अनुपात विश्लेषण कई तरह से किया जा सकताहै, और तदनुसार, इसका सूत्र बदल जाएगा।

निष्कर्ष

अनुपात विश्लेषण वित्तीय विश्लेषण की नींव है जिसका उपयोग कंपनी के प्रदर्शन पर गहराई से अंतर्दृष्टि प्राप्त करने के लिए किया जाता है। यह विभिन्न महत्वपूर्ण घटकों से संबंधित साल-दर-साल के आधार पर वित्तीय प्रदर्शन को जानने का एक मात्रात्मक तरीका है। यह आपको भविष्य में विकास करने के लिए अतीत की जांच करने देता है, उद्योग औसत से कंपनी की वित्तीय तुलना करता है, और अन्य भी काम आता है। अनुपात विश्लेषण की बेहतर समझ होने से आपको विभिन्न कोणों से एक कंपनी का व्यापक दृष्टिकोण प्राप्त करने और आपके निवेश निर्णय की योग्यता की पुष्टि करने में मदद मिलेगी।