करों का भुगतान एक आदर्श नागरिक होने के सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है। सरकार नागरिकों से एकत्र करों के माध्यम से ही सार्वजनिक सेवाएं और सुविधाएं देने में सक्षम होती है, है और नागरिकों के लिए देश और इसकी अर्थव्यवस्था निरंतर चलते रहना सुनिश्चित करने के लिए करों का भुगतान करना आवश्यक है।

हालांकि, जब भी आप अपने आयकर को दाखिल करने के लिए तैयार होते हैं, तो अपने कर के बोझ को कम करने का सबसे अच्छा तरीका खोजना महत्वपूर्ण है। हर कोई अपनी कर देनदारियों को कम करना चाहता है लेकिन इसे नैतिक और कानूनी तरीके से करना महत्वपूर्ण है। सरकार अपने स्तर पर भी विभिन्न प्रकार के कर छूट के साथ-साथ कटौती की पेशकश करके नागरिकों के लिए कर के बोझ को कम करने की कोशिश करती है।इनका लाभ लेना और यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि आप उस राशि को काफी हद्द तक कम कर पाते हैं जिसकाआप करों के रूप में भुगतान करने के लिए उत्तरदायी हैं।

यहां तक ​​कि जब आप एक ऐसी योजना पर काम करना शुरू करते हैं जो आपके कर बोझ को कम करने के सर्वोत्तम तरीके के बारे में बताती है, तो 4 नियमों को ध्यान में रखना महत्वपूर्ण है जो सर्वोत्तम कर बचत सुनिश्चित करते हैं। सबसे अच्छी तरह यह कैसे सुनिश्चित करा जाए कि आपकी कर संबंधी देनदारियां कम से कम हों, और यह कि आप अपनी आय का एक बड़ा हिस्सा बचत के लिए समर्पित कर सकते हैं और अंततः अपनी सेवानिवृत्ति के लिए पर्याप्त कोष का निर्माण कर सकते हैं, इसके लिए आगे पढ़ें।

  1. कर बचत करने वाले उपकरणों पर निवेश करें:

विभिन्न प्रकार के निवेश उपकरण हैं और उनमें से प्रत्येक दूसरों से अलग लाभ प्रदान करने की पेशकश करता है। जिन निवेश उपकरणों में आपको निवेश करने की तलाश करनी चाहिए, उसे आपको किसी भी अन्य उपकरण की तुलना में अधिक कर बचत की पेशकश करनी चाहिए। वे अलग-अलग लाभ जिन्हें प्राप्त करने में उपकरण आपकी मदद करेगा, उनको समझने के लिए निवेश करने से पहले पूरी तरह से शोध करना महत्वपूर्ण है। यह सुनिश्चित करने के लिए कि आप एक जानकारी पूर्ण निर्णय ले रहे हैं, निवेश करने से पहले कई अलग-अलग निवेश साधनों का आकलन करना सुनिश्चित करें।

  1. स्वास्थ्य बीमा में निवेश करें:

स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी लोगों के लिए उपलब्ध सर्वोत्तम कर बचत विकल्पों में से एक है। स्वास्थ्य बीमा की ओर भुगतान किए गए प्रीमियम को अक्सर कर से छूट दी जाती है या अधिल मात्रा में कर कटौती उपलब्ध होती है, जिनमें से दोनों यह सुनिश्चित करते हैं कि आप अच्छी-कासी कर की बचत कर पाएं।

  1. ऋण भुगतान पर कटौती का दावाकरें:

हम में से कई के पास ऋण हैं, या तो हमारे कॉलेज के दिनों के दौरान एक छात्र ऋण के रूप में, या कार या घर या यहां तक कि एक बाइक के लिए ऋण के रूप में। इन ऋणों पर जो ब्याज आप दे रहे हैं उस पर कर छूट और कटौती मिलती है, जो यह सुनिश्चित करता है कि आप करों की एक अच्छी-खासी राशि को बचा पाएं। आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 डी में वास्तव में ऐसे प्रावधान हैं जिनमें स्वास्थ्य बीमा पॉलिसियों के लिए भुगतान किए गए प्रीमियम पर 25,000 रुपये तक की कटौती उपलब्ध है। यहां तक कि वरिष्ठ नागरिक 50,000 रुपये तक की कटौती का लाभ उठा सकते हैं। कर के बोझ को नैतिक रूप से कम करने के लिए करदाता के रूप में आपके लिए उपलब्ध विभिन्न विकल्पों के बारे में जानना महत्वपूर्ण है, ताकि आप यह समझ सकें कि आप कर लाभों का सर्वोत्तम लाभ कैसे उठा सकते हैं।

  1. निवेश के बारे में सावधानीपूर्वक निर्णय लें:

सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाला कर बचत लाभ केवल एक निश्चित राशि तक मान्य होता है। उदाहरण के लिए, 1.5 लाख रुपये वह उच्चतम राशि है जिसकी इज़ाज़त सरकार कर बचत के रूप में देती है। इस प्रावधान का सबसे अच्छा उपयोग करने के लिए, अपने कर बचत करने वाले खर्चों का आकलन करना सुनिश्चित करें। इसमें आपका ईपीएफ योगदान, होम लोन या कार ऋण या यहां तक कि छात्र ऋण पर पुनः भुगतान, बच्चों के स्कूल फीस के लिए किए गए भुगतान और ऐसे बीमा प्रीमियम भी शामिल होंगे जो आप अपने, अपने पति या पत्नी और किसी भी आश्रित बच्चे या माता-पिता के लिए भुगतान कर रहे हैं।

एक बार जब आप उन खर्चों का आकलन कर लेते हैं जिनकी वजह से आप कर पे बचत कर पा रहे हैं, तो आपको यह राशि 1.5 लाख रुपये से घटानी होगी। ऐसा करने पर जो आंकड़ा आप पाएंगे, वो वह राशि है जिसे आपको उच्च कर लाभ प्राप्त करने के लिए निवेश करना चाहिए।

टैक्स बचत आपकी वित्तीय योजना के सबसे महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है, और कर बचत करने के नियम पहली चीजों में से एक हैं जो आपको करों का भुगतान शुरू करने पर सीखना चाहिए।

निवेश प्रक्रिया शुरू करने से पहले आपके लिए उपलब्ध सर्वोत्तम कर बचत विकल्पों की जांच करना सुनिश्चित करें। हालांकि, जबकि कर बचत निवेश आपका पहला मानदंड होना चाहिए, निवेश करने से पहले आपको कई अन्य चीज़ों के बारे में विचार करना चाहिए। निवेश करने से पहले उन विभिन्न कारकों के बारे में जानने के लिए आगे पढ़ें जिन पर आपको विचार करना चाहिए।

5. आपके द्वारा किए जाने वाले निवेश से संबंधित में अपनी आवश्यकताओं को पहचानें । अपने लक्ष्यों और उस समय की अवधि को समझें जिसमें आपने इस लक्ष्य को पूरा करने के बारे में सोचा है। उदाहरण के लिए, यदि आप अल्पकालिक लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए निवेश कर रहे हैं, तो आप उन उपकरणों में निवेश कर सकते हैं जो निश्चित रिटर्न प्रदान करते हैं। हालांकि, यदि आप अपने दीर्घकालिक लक्ष्यों को पूरा करना चाहते हैं, तो एक ऐसे उपकरण में निवेश करना सबसे अच्छा है जो आपको एक समय की अवधि पूरा होने पर उच्च रिटर्न प्रदान करता है। इक्विटी बाजार में निवेश, उदाहरण के लिए, अपने दीर्घकालिक लक्ष्यों को पूरा करने का एक शानदार तरीका है। जबकि इस उपकरण में उच्च जोखिम रहता है, समय की लंबे अवधि यह सुनिश्चित करती है कि बाजार के पास स्थिर होने और निवेशक को रिटर्न की पेशकश करने के लिए पर्याप्त समय है।

6. एक निवेशक के रूप में अपनी खुद की रिस्क प्रोफ़ाइल को समझें। जिन निवेशकों के पास ज्यादा रिस्कवाली प्रोफ़ाइल है, वे इक्विटी स्टॉक जैसे उपकरणों में निवेश करने को तैयार रहते हैं जो उच्च रिटर्न प्रदान करते हैं लेकिन बाजार की स्थितियों के लिए भी अतिसंवेदनशील होते हैं। एक निवेशक के लिए यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि उनका व्यक्तिगत रिस्क प्रोफ़ाइल निवेश उपकरण द्वारा प्रदान किए गए रिस्क के अनुरूप है। यदि उपकरण के कारण होने वाला रिस्क आपके रिस्क प्रोफ़ाइल से अधिक है, तो आप निवेश करने के कारण पछता सकते हैं।

7. उपकरणों का एक अच्छा-खासा मिला-जुला रूप सुनिश्चित करें। अपने निवेश पोर्टफोलियो में विविधता लाने से यह सुनिश्चित होता है कि आपको कम से कम जोखिम का सामना करना पड़े क्योंकि आपका रिस्क कई निवेश उपकरणों पर भी फैला हुआ है। एक विविध निवेश पोर्टफोलियो के साथ, आप प्रत्येक उपकरण में कम निवेश कर सकते हैं और इस तरह उच्च रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं।

निवेश आपके वित्तीय जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, और यह इस तरह से करना महत्वपूर्ण है कि आप बहुत ज्यादा खोए बिना उच्चतम रिटर्न प्राप्त करें। यहां पर कर बचत अधिक महत्वपूर्ण हो जाती है क्योंकि वे आपको अपने कर देनदारियों को कम करने और वित्तीय रूप से जिम्मेदार जीवन जीने में सक्षम बनाती हैं।