परिचय

कच्चे तेल को डीजल, हीटिंग तेल, गैसोलीन, जेट ईंधन और विभिन्न पेट्रोकेमिकल्स जैसे उत्पादों का उत्पादन करने के लिए शुद्ध किया जाता है। कच्चा तेल विभिन्न श्रेणियों में उपलब्ध है, जिनका नाम निकाले जाने वाले स्थान के नाम पर होता है । रोज़ाना औसतन 2500 करोड़ रुपये के कच्चे तेल का कारोबार किया जाता है, जिससे यह एम सी एक्स पर कारोबार करने वाले सबसे बड़े कॉन्ट्रैक्ट्स में से एक बन जाता है। कच्चे तेल के लिए  लॉट साइज़ 100 बैरल है, जबकि कच्चे तेल मिनी की 10 बैरल है। कच्चे तेल की बताई गयी कीमत प्रति बैरल होती है। प्रत्येक बैरल में तक़रीबन 42 गैलन कच्चा तेल आता है। आज 21 अक्टूबर 2019 को कच्चे तेल मिनी की कीमत 3,993.00 रुपये प्रति बैरल है।

कॉन्ट्रैक्ट  की विशेषताएं

हर महीने कच्चे तेल के नए कॉन्ट्रैक्ट्स जारी किए जाते हैं। शुरुवात की तारीख से छह महीने बाद कच्चे तेल के कॉन्ट्रैक्ट  की समय सीमा समाप्त हो जाती है। कच्चे तेल के कॉन्ट्रैक्ट दो प्रकार के होते हैं- कच्चा तेल और कच्चा तेल मिनी। निवेशकों को कच्चे तेल मिनी के कॉन्ट्रैक्ट बहुत पसंद हैं । इसका सीधा सा कारण है, आवश्यक मार्जिन कच्चे तेल के कॉन्ट्रैक्ट से बहुत कम है। प्रति टिक लाभ और हानि कम हैं, और अध्ययनों से पता चलता है कि लोगों को उच्च लाभ की तुलना में कम नुकसान का सामना करना ज्यादा पसंद है।

मांग को प्रभावित करने वाले कारण

चीन, भारत जैसी उभरती अर्थव्यवस्थाओं में कच्चे तेल की बढ़ती हुई मांग है। इस मांग का कच्चे तेल मिनी दर पर सीधा प्रभाव पड़ता है। ऊर्जा की खपत के स्तर में वृद्धि के परिणामस्वरूप कच्चे तेल मिनी की मांग बढती है, क्योंकि भंडार तो सीमित ही हैं। तेल के नए भंडार की खोज पर निर्देशित पूंजी की कमी भी कच्चे तेल मिनी की कीमत को प्रभावित करती है। यह कारण सुनिश्चित करते हैं कि कच्चे तेल मिनी की कीमत लगातार बढती रहे। अमेरिकी डॉलर के मूल्य का भी तेल की कीमत पर एक बड़ा प्रभाव होता है। कच्चे तेल मिनी की कीमत शेयर बाजार से भी निकटता से जुड़ी हुई है।

मूल्य प्रभाव

कच्चे तेल मिनी की कीमत तेल के विभिन्न बैरल की ऑन-स्पॉट कीमतों की सूचक  है। कच्चे तेल मिनी की दर, पूरी  दुनिया के आर्थिक विकास पर एक गहरा प्रभाव डालती है क्योंकि, हमारे उद्योग कच्चे तेल पर बहुत अधिक  निर्भर हैं।

निष्कर्ष

कच्चे तेल मिनी के लिए बाजार अक्सर ही उतार-चढ़ाव वाला रहा है। प्रमुख घटनाएं जो कि तेल की कीमतों में अप्रत्याशित रूप से उतार चढ़ाव लाती है रातों-रात भी घट सकती हैं। कच्चे तेल  मिनी की दर को प्रभावित वाले ये परिवर्तन पूरे दिन में भी हो सकते हैं।